संवाद सहयोगी, महेंद्रगढ़:

राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल धनौंदा में शुक्रवार को एसडीएम सुरेंद्र कुमार ने औचक निरीक्षण किया। स्कूल की कार्रवाई देखकर उन्होंने स्कूल प्रशासन की बहुत-बहुत प्रसंशा की। स्कूल के गणित प्रवक्ता सतन सिंह ने बताया कि शुक्रवार को राष्ट्रीय अचीवमेंट सर्वे परीक्षा का आयोजन विभिन्न स्कूलों में किया गया था। जिसका मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों के सीखने की कला का निरीक्षण करना था। इस परीक्षा का आयोजन महेंद्रगढ़ सहित सभी जिलों में इस परीक्षा का आयोजन किया गया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कक्षा बारहवीं की छात्राओं को पढ़ाई के प्रति प्रेरित किया तथा उन्हें आगे प्रतिस्पर्धात्मक युग में किस प्रकार से संघर्ष करने के मूलमंत्र पर जोर दिया। उन्होंने कहा कोविड-19 के कारण बच्चों की शिक्षा में काफी बाधाएं आई है। अब उन बाधाओं को नए जुनून व जोश के साथ दूर करने की आवश्यकता है। इसके लिए नियमितता, कड़ी मेहनत एवं अपना आत्मविश्वास होना अति आवश्यक हैं। उन्होंने कहा कक्षा ग्यारहवीं एवं बारहवीं की पढ़ाई अगर ठीक प्रकार से कर ली जाए तो जीवन में सफलता बहुत जल्दी मिल जाती है अन्यथा 35-40 वर्ष की आयु तक आप अपनी डिग्री को लेकर घुमते रहेंगे। उसका कोई फायदा नहीं होगा। उन्होंने अपने संबोधन में स्कूल स्तर पर हर समस्या का समाधान के लिए अध्यापकों को आश्वस्त किया। इस मौके पर उन्होंने विद्यार्थियों को एनडीए व सीडीएस की परीक्षा देने के लिए भी प्रेरित किया। इस मौके पर स्कूल का समस्त स्टाफ सदस्य उपस्थित था।

Edited By: Jagran