नारनौल, जागरण टीम: बड़कोदा के राकेश कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 10 अक्टूबर को उसकी मां, पत्नी, छह माह की बेटी और उसकी बुआ दादरी बस स्टैंड से नारनौल के लिए बैठीं थीं। इस दौरान उक्त यात्रियों ने टिकट लेते समय लहरोदा उतरने की बात कही थी। जिस पर परिचालक ने कहा था कि लहरोदा में उतार देंगे। जैसे ही पंजाब रोडवेज लहरोदा के पास पहुंचे तो चालक ने बस रोकने से मना कर दिया।

बस चालक ने महाबीर चौक पर पहुंचने के बाद बस रोक दी, इसके बाद चालक ने चार सवारी नीचे उतार दी, लेकिन उसकी मां बस के अंदर ही रह गई। उसकी पत्नी ने बताया कि मां बस के अंदर रह गई। वह बस स्टैंड पहुंचा तो उसकी मां बेहोश और गंभीर अवस्था में पड़ी थीं।

डायल 112 पर फोन किया, लेकिन उस समय फोन नहीं उठा। ऐसे में उसकी मां की गंभीर हालात देखकर वह नारनौल के नागरिक अस्पताल में उपचार के लिए लेकर चला गया। पुलिस ने शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। शिकायत में चालक, परिचालक पर कानूनी कार्रवाई की मांग की।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट