संवाद सहयोगी, मंडी अटेली : धोली की जमीन को मालिकाना हक दिलाने को लेकर अखिल भारतीय ब्राह्मण परिषद के प्रधान धीरज कौशिक के नेतृत्व में समाज के लोगों ने नायब तहसीलदार रमेश कुमार के मार्फत मुख्यमंत्री मनोहरलाल को ज्ञापन भेजा।

इस ज्ञापन में बताया कि धौली की जमीन को मालिकाना हक दिया गया था, लेकिन पिछली विधानसभा में बिना किसी प्रकार के संशोधन पेश कर इसे निरस्त कर दिया, जिससे ब्राह्मण समाज में रोष है। इसलिए उन्होंने सरकार से इस फैसले को वापिस लेने की मांग की। उन्होंने बताया कि पंचायत भूमि, सरकारी भूमि व निगम की भूमि पर मालिकाना हक वापिस ले लिए गये। यह नियम धोलीदारों के हक पर कुठाराघात है। उन्होंने बताया कि धोली की भूमि जो ब्राह्मणों को मानपूर्वक दी गई, ताकि ब्राह्मण उनकी मंगल कामना करें। यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। इस धोली की जमीन का बंटवारा होकर छोटे-छोटे टुकड़े हो गये, जो गरीब ब्राह्मणों के काम आते हैं, जो मालिकाना हक लेकर जीवनयापन कर सकते है। इसलिए यह संशोधन बिल्कुल गलत है। ब्राह्मण विरोधी है। अटेली ब्राह्मण समाज इस कानून को रद करने की मांग की है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस