जागरण संवाददाता, नारनौल : लॉकडाउन के चलते पुलिस ने पूरी मेहनत व इमानदारी से ड्यूटी करके लोगों को कोरोना जैसी महामारी से जंग लड़ने के लिए जागरूक कर रही है, ताकि यह बीमारी हमारे जिले में न आ सके। सरकार द्वारा लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने पर पुलिस अधीक्षक सुलोचना गजराज ने मंगलवार को अपने कार्यालय में जिले के सभी डीएसपी व एसएचओ की बैठक ली। इस दौरान उन्हें लॉकडाउन को पूर्णतया लागू करवाने के लिए उनके कार्य की सराहना करते हुए कहा कि अभी हमारी चुनौती खत्म नहीं हुईं हैं। अभी हमें इसमें और अधिक मेहनत से काम करना है। हमें और अधिक सतर्कता से काम करने की जरूरत है। घर से बिना वजह लोगों को बाहर न घूमने दे और जो लोग किसी काम से घर से बाहर आते हैं उनको बिना मास्क लगाए नहीं आने दे। लोगों को पहले मास्क लगाने के लिए समझाया जाए। इसके बाद भी लोग मास्क नहीं लगाते है तो उनके खिलाफ कार्यवाही करें। इसके साथ-साथ पुलिस की एक और चुनौती अपराधियों पर नजर रखने की है। शराब के ठेके बंद होने पर अवैध शराब के कारोबारियों पर नजर रखने की है। अभी तक लॉकडाउन के चलते इन पर बहुत हद तक सभी ने शिकंजा कसा गया है। लोगों की शिकायत मिलने पर उस पर भी कार्यवाही करनी है। एसपी ने कहा कि हमें उन गरीबों के खाने का भी प्रबंध करना या करवाना है जो मजदूरी करके अपना पेट पालते है शेल्टर होम में रह रहे है। ऐसे लोगों पर नजर रखे की उन्हें किसी प्रकार की परेशानी न हो। पुलिस अधीक्षक ने सभी लोगों से भी अपील की है कि घर से निकलते समय मास्क अवश्य लगाए। बैकों के सामने भी भीड़ न हो इसका भी विशेष ध्यान रखना है। सरसों व गेंहू की खरीद के लिए बनाई गई अस्थायी मंडियों में भी शारीरिक दूरी का ध्यान रखे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस