जागरण संवाददाता, नारनौल: जिला नगर योजनाकार की टीम ने शुक्रवार को शहरी क्षेत्र नारनौल में लगभग तीन एकड़ क्षेत्र में विकसित की जा रही अवैध कालोनी में तोड़फोड़ की कार्रवाई की। राजस्व संपदा नारनौल में कुछ लोगों द्वारा लगभग तीन एकड़ में महानिदेशक नगर तथा ग्राम आयोजना विभाग से बिना लाइसेंस और अनुमति लिए अवैध कालोनी बनाई जा रही थी। कालोनी में रोड नेटवर्क बिछाए जा रहे थे। जिसे जिला प्रशासन की मदद से तोड़ दिया गया। इस कार्रवाई में दस चारदीवारी/डीपीसी के साथ-साथ सभी रोड नेटवर्क उखाड़ दिये गये। यह कार्रवाई डीटीपी प्रवीण कुमार चौहान की अगुवाई में स्टाफ सदस्य के साथ भारी पुलिस बल की मौजूदगी में अमल में लाई गई। जिला नगर योजनाकार ने लोगों से अपील की है कि नियंत्रित क्षेत्र में कोई भी निर्माण बिना विभागीय अनुमति के न करें तथा महानिदेशक, नगर तथा ग्राम आयोजना विभाग से लाइसेंस अनुमति लेने के उपरांत ही कृषि भूमि को रिहायशी अथवा वाणिज्यिक उपयोग के लिए परिवर्तित करे नहीं तो चूक कर्ताओं के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जायेगी। किसी भी अवैध कालोनी में कोई प्लाट प्रापर्टी डीलर्स के बहकावे

में आकर न खरीदें और न ही अवैध निर्माण करें। इसके अतिरिक्त कोई भी प्लाट खरीदने से पहले कालोनी की वैधता के बारे में व निर्माण करने से पूर्व नियमानुसार अनुमति लेने के बारे में जिला नगर योजनाकार कार्यालय से किसी भी कार्यदिवस में पता किया जा सकता है। जिला नगर योजनाकार ने बताया कि भविष्य में जिले में अन्य स्थानों पर विकसित की जा रही अवैध कालोनियों तथा अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी।

Edited By: Jagran