संवाद सहयोगी, कनीना

एचएसइबी वर्कर यूनियन कनीना की ओर से उपमंडल अधिकारी विद्युत कार्यालय कनीना के प्रांगण में उपमंडल अधिकारी के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन का नेतृत्व विकास जांगड़ा ने किया।

धरना प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों ने कहा कि नौ सितंबर को आनंद प्रकाश जेई व उनके अधीनस्थ कर्मचारी सतीश कुमार, मोनू 11केवी करीरा की विद्युत आपूर्ति लाइन को साफ करने के लिए पेड़ों की टहनियों की कटाई में लगे हुए थे। इसी दौरान वनरक्षक ने उनको टहनियां काटने से रोका और कुल्हाड़ी छीन ली। इस बात को लेकर उनमें कहासुनी हो गई। बाद में उपमंडल अधिकारी कनीना (बिजली) से वनरक्षक ने फोन पर संपर्क किया तो उपमंडल अधिकारी ने साफ मना कर दिया कि ये कर्मचारी अपनी मर्जी से काम करने गए थे जबकि उन्होंने कोई आदेश नहीं दिया था। आरोप है कि उपमंडल अधिकारी ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। इस मामले में जब दस सितंबर को उपमंडल अधिकारी विद्युत से यूनियन के पदाधिकारियों ने बैठक की तो अधिकारी का रवैया सकारात्मक नहीं था। इसी बात को लेकर कर्मचारियों ने उनके खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। दूसरी ओर, उपमंडल अधिकारी ने आरोपों का खंडन किया है। धरना प्रदर्शन में राजेंद्र नौताना मुख्य मीडिया सलाहकार, सुरेश कुमार, रामरतन शर्मा जेई यूनिट सचिव, अजय कुमार ¨सह सचिव, जितेंद्र जेई, बलबीर खटाना, अजय कुमार, पवन कुमार, आनंद कुमार, हकीकत जेई, छोटेलाल जेई आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran