संवाद सहयोगी, महेंद्रगढ़ : हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय महेंद्रगढ़ में स्कूल ऑफ इंजीनियरिग एंड टेक्नोलॉजी के अंतर्गत बीटेक के चार पाठ्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिग भी इन पाठ्यक्रमों में शामिल है। विश्वविद्यालय में इस कोर्स के अंतर्गत 60 सीटें उपलब्ध हैं। बीटेक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिग में दाखिले केंद्रीय विश्वविद्यालय संयुक्त प्रवेश परीक्षा के माध्यम से किए जा रहे हैं। दाखिले के ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 23 मई है।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आरसी कुहाड़ ने बताया कि अगर विद्यार्थी इंजीनियरिग के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं तो इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिग संभावनाओं और मांग के लिहाज से एक अच्छा विकल्प है। घर से लेकर औद्योगिक और स्पेस एप्लीकेंशस तक हर क्षेत्र में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की जरूरत है। हमारी जिदगी में आधुनिक मशीनों और गैजेट्स के बढ़ते इस्तेमाल की वजह से उपकरणों को ज्यादा सक्षम, नियंत्रण योग्य और विश्वसनीय बनाने की जरूरत है। इस बढ़ती मांग की वजह से इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के रोजगार की संभावनाएं बढ़ रही हैं।

प्रो. कुहाड़ ने बताया कि इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिग के बाद रोजगार के काफी अच्छे अवसर मौजूद हैं। प्रोडक्ट डेवलपमेंट, कंट्रोल सिस्टम्स, सिस्टम मैनेजमेंट, प्रोडक्ट डिजाइन, सेल्स, वायरलेस कम्युनिकेशन, मैन्युफैक्चरिग, केमिकल, ऑटोमोटिव और स्पेस रिसर्च संगठनों से संबंधित कार्य करने वाली इकाइयों में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर्स की काफी मांग है। पाठ्यक्रम के पूर्ण होने पर कैंपस प्लेसमेंट की दिशा में भी विश्वविद्यालय प्रयास करता है। पंजीकरण, योग्यता व दाखिले से संबंधित अन्य विवरण वेबसाइट पर उपलब्ध है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस