जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : जिलाधीश एवं डीसी डॉ. एसएस फुलिया ने कहा कि उच्च न्यायालय पंजाब एवं हरियाणा द्वारा 10 नवंबर को आयोजित लिपिक के पद की परीक्षाओं के लिए जिला भर में 22 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इन परीक्षा केंद्रों के लिए तीन अधिकारियों को बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है। इन परीक्षाओं को सुचारू रूप से संपन्न करवाने के लिए व कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए केंद्रों की 200 मीटर की परिधि में धारा 144 लगाने के आदेश जारी किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि यह परीक्षा 10 नवंबर को सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर 12 बजे तक आयोजित की जाएगी। इस परीक्षा के लिए कुरुक्षेत्र जिले के थानेसर व शाहाबाद उपमंडल में 22 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें करीब 14 हजार 28 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। परीक्षा के दौरान किसी भी व्यक्ति को परीक्षा केंद्र की 200 मीटर की परीधि में किसी भी प्रकार का हथियार, मोबाईल फोन, वाई-फाई यंत्र ले जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इतना ही नहीं परीक्षा केंद्रों के आसपास फोटो स्टेट की मशीनें भी बंद रखी जाएंगी।

उन्होंने बताया कि इन आदेशों की अवहेलना करने पर आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी। जारी आदेशों में नायब तहसीलदार थानेसर जयवीर रंगा को थानेसर में बनाए गए परीक्षा केंद्र नंबर 501 से 507 तक के लिए ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है। इसी प्रकार बीडीपीओ थानेसर ईश्वर चंद को 508 से 514 और तहसीलदार शाहाबाद टिक्का राम को शाहाबाद में बनाए गए परीक्षा केंद्र नंबर 515 से 522 तक के लिए ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप