संवाद सहयोगी, लाडवा : लाडवा कॉलेज ऑफ एजुकेशन में चल रहे निष्ठा कार्यक्रम का प्रथम चरण शनिवार को संपन्न हुआ। पहले बैच में लाडवा व बाबैन खंडों के लगभग 150 अध्यापकों ने पांच दिवसीय कार्यशाला में भाग लिया। दूसरे चरण में सोमवार से अन्य 150 शिक्षक कार्यशाला में भाग लेंगे।

लाडवा के बीईओ बलवंत सिंह व बाबैन के बीईओ रनवीर सिंह रामपुरा ने कहा कि प्रशिक्षण बेहद रोचक व जानकारी परक रहा और उन्हें प्रभावी शिक्षण की नई तकनीकों का व्यवहारिक ज्ञान प्राप्त हुआ। प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रभारी डॉ. मेनपाल शर्मा, डॉ. ऋषिपाल मथाना, डॉ. राम गोपाल, डॉ. विनय गोयल, जयदेव, कोमल की टीम ने अपने-अपने विषय में हो रहे बदलावों व समय के अनुसार विकसित शिक्षण विधियों की जानकारी दी।

बीईओ बलवंत सिंह ने बताया कि निष्ठा कार्यक्रम पूरे देश में लागू किया जा चुका है, जिसके तहत 42 लाख अध्यापकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इस प्रकार के प्रशिक्षण से निश्चित तौर पर अध्यापकों के शिक्षण कौशल में और सुधार होगा और शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा। बीईओ रणवीर सिंह रामपुरा ने कहा कि अध्यापकों ने जिस प्रकार पूरी गंभीरता से प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लिया है वह सराहनीय है। मेनपाल शर्मा ने बताया कि यह राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर राष्ट्रीय संसाधन समूह और राज्य संसाधन समूहों (एसआरजी) का गठन करके आयोजित किया जा रहा है। अध्यापकों न केवल प्रशिक्षण के पाठ्यक्रम को पूरी इमानदारी से सीखा, बल्कि प्रतिदिन होने वाली गतिविधियों में भी बढ़चढ़ कर भाग लिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस