जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : पुलिस की अपराध शाखा-एक ने मोनू हत्याकांड में तीन और आरोपितों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में मुख्यारोपित युवती सहित छह आरोपितों को पहले गिरफ्तार किया जा चुका है।

डीएसपी ममता सौदा ने बताया कि 23 अगस्त को पिहोवा के गांव ककराली निवासी सोनू ने पिहोवा थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि कुछ दिन पहले गांव हेलवा निवासी दिलबाग उर्फ बागा ने अपने साथियों के साथ उसके मकान के बाहर फायर किया था। जिस कारण उनकी रंजिश चल रही थी। वारदात के दिन उसका भाई मोनू किसी काम से पिहोवा गया था। करीब पौने चार बजे गुरुद्वारा बोहली साहिब के बाहर कुछ युवकों ने मिलकर उस पर गोलियां दागी, जिससे उसकी मौत हो गई थी। थाना पिहोवा पुलिस ने हत्या व शस्त्र अधिनियम के तहत केस दर्ज कर जांच पुलिस की अपराध शाखा एक प्रभारी प्रतीक कुमार को सौंपी थी। निरीक्षक प्रतीक कुमार ने अपने सहयोगी एसआइ देवेंद्र कुमार, एएसआइ विनोद कुमार, एएसआइ सतनारायण, हवलदार अरविद, गुरबक्श व महिला मुख्य सिपाही सरला की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर हत्या की मुख्यारोपित दिल्ली निवासी पिकी, आरोपित राजेश उर्फ खन्ना, दिलबाग उर्फ बाग्गा, राजदीप, प्रवीण कुमार व सुनील उर्फ लक्खा को गिरफ्तार किया था। मामले में अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी बकाया थी। अपराध शाखा की टीम ने हत्यारोपित नवदीप उर्फ छोटा, हरिकेश उर्फ टोनी बाबा व शेखर उर्फ हैप्पी को दिल्ली से गिरफ्तार किया। आरोपितों को अदालत में पेश किया। अदालत ने उन्हें पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस