संवाद सहयोगी, इस्माईलाबाद : बिना लाइसेंस और निर्धारित स्थान से अलग जगह पर पटाखे बेचने वालों की अब खैर नहीं होगी। ऐसे लोगों से निपटने के लिए नगर पालिका ने टीमें गठित कर ली हैं। दशहरे के बाद दुकानों पर छापामारी आरंभ की जाएगी। प्रशासन ने दशहरा पर्व पर कोरोना नियमों के पालन पर भी बल दिया है।

प्रशासन को बार-बार शिकायतें मिल रही हैं कि काफी दुकानदार पटाखों के जखीरे जमा किए हुए हैं। बीते साल पटाखों की बिक्री बंद थी। इस बार दुकानदार वारे न्यारे करने की फिराक में हैं। काफी दुकानदारों ने तो आबादी के बीच ही पटाखों के गोदाम बनाए हुए हैं। प्रशासन ने हिदायत जारी की है कि ऐसे लोग जिला उपायुक्त कार्यालय से लाइसेंस लें। यही नहीं पटाखों की बिक्री केवल प्रशासन की ओर से निर्धारित स्थानों पर ही करें। इसकी अवहेलना करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। नगर पालिका ने टीमें बनाकर काम में लगा दी हैं। यह टीमें दबे पांव दबिश देंगी। जिस भी दुकानदार के पास अवैध रूप से पटाखे मिलेंगे। उसके पटाखे जब्त कर पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया जाएगा। नगर पालिका सचिव अंकुश पराशर ने बताया कि अवैध रूप से रखे पटाखे कभी भी बड़े हादसे का कारण बन सकते हैं। उन्होंने बताया कि दशहरे के बाद छापामारी अभियान आरंभ किया जाएगा। यही नहीं बिना लाइसेंस पटाखा बिक्री नहीं होने दी जाएगी। छापामारी अभियान पुलिस बल को साथ लेकर आरंभ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रशासन की आंखों में धूल झोंक कर जेबें भरने वालों पर पूरी सख्ती बरती जाएगी।

Edited By: Jagran