जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र :

देश की सातवीं आर्थिक गणना को लेकर अधिकारियों ने शुक्रवार को कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) संचालकों को प्रशिक्षण दिया। पंचायत भवन में पहुंचे सीएससी को संचालकों को संबोधित करते हुए जिला सांख्यिकी अधिकारी लक्की अरोड़ा ने कहा कि सातवीं आर्थिक गणना को लेकर सभी सुपरवाइजर को गंभीरता से काम करना होगा। इसके लिए केंद्र सरकार की ओर से कई तरह के मानक तय किए गए हैं, जिन्हें फोलो करना जरूरी है। इसके लिए हमें पहले से ही तैयारी करनी होगी। उन्होंने कहा कि सुपरवाइजर के कंधों पर इस गणना की ज्यादा जिम्मेदारी है। उन्हें ही गांवों में कार्य करने वाले गणनाकारों के काम पर निगरानी रखनी है। केवल इतना ही नहीं गणनाकारों को आर्थिक गणना से संबंधित टिप्स भी देने हैं। उन्होंने कहा कि कई सुपरवाइजर इस गणना को हलके में ले रहे हैं। इस मामले में लापरवाही कतई बर्दाशत नहीं की जाएगी। उन्होंने बताया कि यह गणना पूरी तरह से कागज और पैन रहित है। इसे मोबाइल एप पर अपलोड करना है। इस मौके पर उनके साथ संजय चौधरी, सीएससी की जिला प्रबंधक कनिका व अन्य विशेषज्ञ उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran