संवाद सहयोगी, शाहाबाद : खेल मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि सरकार का लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्रों तक खेल सुविधाओं को पहुंचान ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले खिलाड़ियों की प्रतिभा का निखारना है। एक सर्वे के अनुसार 80 फीसद से ज्यादा खिलाड़ी गांव से आते हैं और अगर हम गांव तक नहीं पहुंच पाते तो स्पो‌र्ट्स को ऊपर नहीं लाया जा सकता। इसलिए खेलों को लेकर गांवों पर फोकस करना है।

उन्होंने ये बात शनिवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। उन्होंने कहा कि जो पैसा स्टेडियमों पर खर्च किया जाता है उसे अब बच्चों पर खर्च किया जाएगा और स्टेडियम वहीं बनेंगे जहां आवश्यकता होगी। अब ज्यादा से ज्यादा खेल मैदान बनाने हैं ताकि बच्चे इन मैदानों में खेल कर अपनी प्रतिभा का तराश सकें। उन्होंने कहा कि 1966 से लेकर आज तक हरियाणा में चंद स्टेडियम ही काम आए हैं। इसलिए ज्यादा पैसा अब नये खिलाडिय़ों पर खर्च किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा अगले वर्ष खेलो इंडिया को होस्ट करने जा रहा है और इस दौरान हरियाणा के कुछ ऐसे स्टेडियम भी होंगे। जिन्हें पहली बार प्रयोग में लाया जाएगा। अब प्रदेश भी अपनी खेल नीति में बदलाव ला रहा है और पुरानी पॉलिसी के साथ नई पॉलिसी एडऑन की जा रही है।

इस अवसर पर उनके बड़े भाई लेफ्टिनेंट बिक्रमजीत सिंह मोंटी, कोच मिनाक्षी, कोच हरजिद्र कौर, कोच अमनदीप सिंह, कोच कुलविद्र सिंह, कोच गुरप्रीत सिंह मौजूद रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस