फोटो -4

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : पेयजल एवं स्वच्छता विभाग जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार आजादी के अमृत महोत्सव के तहत जिले के सभी गांवों में स्वच्छता के लिए श्रमदान कार्यक्रम करेगा। अभियान के लिए पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के दो उच्चाधिकारी भी कुरुक्षेत्र पहुंचे हैं। दोनों अधिकारी श्रमदान कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे और ओडीएफ प्लस के संबंध में स्थानीय अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

जिला परिषद के सीईओ सतबीर सिंह कुंडू ने इसे लेकर वीरवार को बीडीपीओ व संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने गांवों में स्वच्छता के लिए श्रमदान करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए और ग्राम सचिवों, आंगनबाड़ी वर्करों, आशा वर्करों, अध्यापकों, महिला मंडलों, सफाई कर्मचारियों व ग्रामीणों की सहभागिता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि इन कार्यक्रमों के लिए मुख्य तौर पर जिले के खंड पिपली के गांव कौलापुर व खंड बाबैन के गांव बीड़ सुजरा व रामशरण माजरा का चयन किया गया है। इन गांवों में इस कार्यक्रम का आयोजन बड़े स्तर पर किया जाएगा। इसके साथ ही जिले के सभी गांवों में भी श्रमदान कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम में सभी बीडीपीओ, कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग, जिला शिक्षा अधिकारी, ग्राम सचिवों को ज्यादा से ज्यादा ग्रामीणों, पंचायत समिति, जिला परिषद के सदस्यों, सामाजिक संस्थाओं, पंचायती राज विभाग के अधिकारियों, आगंनबाड़ी वर्करों, आशा वर्करों, स्वयं सहायता समुहों को शामिल करने व भारत सरकार के उच्चाधिकारियों के लिए श्रमदान के लिए काम करना होगा। इन कार्यक्रमों में ग्राम सभा भी की जाएंगी। एकल उपयोग प्लास्टिक को बैन करने के लिए प्रस्ताव भी पास करवाया जाएगा और शपथ भी दिलवाई जाएगी। ग्रामीणों को गांवों को ओडीएफ प्लस बनाने के लिए भी जागरूक किया जाएगा।

Edited By: Jagran