जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र: राजकीय महिला महाविद्यालय में आयोजित सेल्फ डिफेंस ट्रेनिग कैंप के चौथे दिन प्रतिभागियों को बाल खींचने पर बचाव के तरीके सिखाए गए। महिलाओं पर जब भी कोई हमला होता है तो उसमें सबसे ज्यादा बाल खींचना शामिल होता है। बालों से आसानी से महिलाओं को बेबस किया जा सकता है। श्री कृष्ण मार्शल आ‌र्ट्स संस्थान के अध्यक्ष राजेश शर्मा ने बताया कि हेयर ग्रैब डिफेंस तकनीक सीखने के बाद यदि हमलावर द्वारा बालों पर हमला किया जाता है तो महिलाएं अपना बचाव बखूबी कर सकती हैं और हमलावर को मुंह तोड़ जवाब भी दे सकती हैं। हमलावर द्वारा भिन्न-भिन्न स्थितियों में बाल खींचने पर बचाव की अलग-अलग विधियों का प्रशिक्षण दिया गया। इसके साथ साथ हमलावर द्वारा पीछे से पकड़ने तथा दायीं या बायीं तरफ से गला दबाने पर बचाव की विभिन्न तकनीकों का गहन प्रशिक्षण दिया गया। महिला प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ.मीनाक्षी ने बताया कि सभी छात्राएं बहुत ही मेहनत कर रहीं हैं और लगन के साथ प्रशिक्षण ले रही हैं। समाज में अपने साथियों भी प्रेरित कर रही हैं। महाविद्यालय प्राचार्या ने कहा कि यह प्रशिक्षण बहुत ही प्रभावशाली है। इससे छात्राओं का आत्मविश्वास बहुत बढ़ गया है। हर महिला को सेल्फ डिफेंस ट्रेनिग अनिवार्य रूप से लेनी चाहिए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस