जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र: कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के पंचवर्षीय विधि संस्थान में छात्राओं के लिए चार-दिवसीय सेल्फ-डिफेंस ट्रेनिग शिविर का शुभारंभ किया गया। इसमें संस्थान के निदेशक प्रो. राजपाल शर्मा मुख्यातिथि रहे। उन्होंने छात्राओं को अपनी सुरक्षा के लिए एक समुचित प्रशिक्षण प्राप्त करने के स्वर्णिम सुअवसर का लाभ उठाने के लिए आह्वान किया। उन्होंने बताया कि यह शिविर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान को आगे बढ़ाने की ओर एक सटीक कदम है, क्योंकि लड़कियों की सुरक्षा की समस्या समाज में भ्रूण हत्या के मुख्य कारणों में से एक है। लड़कियों की सुरक्षा का विषय लड़कियों की शिक्षा एवं स्वावलम्बन से भी अधिक महत्वपूर्ण है। संयोजिका डॉ.शालू अग्रवाल ने बताया कि यूजीसी के निर्देशों के अनुसार जैंडर गैप को पहचानते हुए इस शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर सह-संयोजक डॉ. नीरज तथा डॉ.सुरेंद्र ने छात्राओं को अपनी सुरक्षा के लिए अपने आप को मजबूत करने के लिए इस शिविर में बढ़-चढ़ कर भाग लेने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर संस्थान की जैंडर सैंसेटाइजेशन समिति के सभी सदस्य एवं जैंडर चैंपियन अखिल चौहान, श्रद्धा कौल, आयूषी जिदल, अक्षय यादव, अनन्य भारद्वाज, कशिश, नायशा मलिक, नीतिका, मोनिका, साक्षी, संगीता सेलवाल, नेहा, शुभि एवं गार्गी नरेश मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप