कुरुक्षेत्र, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीकृष्ण की कर्मस्थली से स्‍वच्‍छता का अभिनव संदेश व मंत्र दिया। समारोह में उन्‍होंने विपक्ष पर भी निशाना साधा। उन्‍हा‍ेंने कहा कि स्‍वच्‍छता और शौचालय की बात करने पर मुझे अपमानित किया गया और मजाक उड़ाया गया। देश को गंदगी आैर भ्रष्‍टाचार की सफाई का अभियान जारी रहेगा। उन्‍होंने कहा, जो भ्रष्‍ट है उसे ही मोदी से कष्‍ट है। कुछ दागदार लोग मोदी को गाली देने, जांच एजेंसियों को धमकाने और न्याय व्यवस्था को प्रभावित करने में जुटे हैं, लेकिन मैं नहीं डरता और इन पर कार्रवाई तेज होगी।

अपने स्‍वार्थ के लिए कुछ लोग मुझ पर सवाल उठा रहे, ऐसे लोगों को मोदी से है डर

इसके साथ ही उन्होंने बिना नाम लिए गांधी परिवार को निशाना बनाया। कुछ लोगाें को लगता है कि देश का इतिहास 1947 के बाद शुरू हाेता है और यह बस एक परिवार के इर्द-गिर्द है। उन्‍होंने कहा कि हमारा उद्देश्‍य कचरा से कंचन बनाना है। यहां आयोजित स्वच्छ शक्ति- 2019 में स्‍वच्‍छता का मंत्र देते हुए विरोधियों पर हमले किए। उन्‍होंने कहा, आपने मुझे देश का चौकीदार बनाया, लेकिन कुछ लोग मेरे ऊपर अपने स्‍वार्थ के लिए सवाल उठा रहे हैं। ये वे लोग हैं जिनको मोदी से डर है। उन्‍होंने कहा, जो लोग भ्रष्‍ट हैं उन्‍हें ही मोदी से कष्‍ट है।

कुछ दागदार लोग माेदी को गाली दे रहे व जांच एजेंसियों का धमका रहे हैं, लेकिन हम डरने वाले नहीं

प्रधानमंत्री ने लोगों से कहा, साढ़े चार साल पहले आपने पूर्ण बहुमत की सरकार बनवाई। ईमानदारी की व्यवस्था लाने के लिए आपने वोट दिया। हमने उसी विश्वास पर चलते हुए बिचौलियों और भ्रष्टाचारियों को व्यवस्था से दूर किया। ईमानदार लोगों को चौकीदार पर पूरा विश्वास है, लेकिन जो भ्रष्ट है उसे मोदी से कष्ट है। मोदी को गाली देने, जांच एजेंसियों को धमकाने और न्याय व्यवस्था को प्रभावित करने में कुछ दागदार लोग जुटे हैं। हम इससे डरते नहीं और इनके खिलाफ कार्रवाई का अभियान तेज होगा।

पीएम ने किया गांधी परिवार पर हमला, कहा- देश का इतिहास एक परिवार के इर्द-गिर्द लिखा गया

मोदी ने कहा, जब प्रधानमंत्री बना तो मैंने देखा कि शौचालय के कारण महिलाओं और लड़कियाें को किस तरह की दिक्‍कतें हो रही हैं। खुले में शाैच के कारण महिलाओं को श्‍ार्मिंदगी का सामना करना पड़ा। मैंने इसके बाद टॉयलेट के निर्माण का अभियान शुरू किया।

पीएम मोदी ने कहा कि स्वच्छता अभियान के बेटियों के सम्मान की मंशा है। 30 करोड़ महिलाओं को शौच के लिए अंधेरे का इंतजार करना पड़ता था। इस पीड़ा को मैं बचपन से देखता आया, इसीलिए लालकिले से बेटियों के सम्मान का संकल्प लिया। विरोधियों ने मेरा मजाक उड़ाया कि लाल किले से शौचालय की बात करता है पीएम। मुझ पर अपमानजक टिप्पणियां कीं। सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए लोगों के तंज मुझे कभी नहीं चुभे। पूरे देश में इज्जतघर के लिए मैं जी जान से जुटा हूं।

पीएम मोदी ने कहा कि देश में स्वच्छता का दायरा 40 फीसद से बढ़कर 98 फीसद हुआ। साढ़े पांच लाख गांव खुले में शौच मुक्त हुए। रोजगार का माध्यम भी साबित हुआ स्वच्छता अभियान। इससे 45 लाख लोगों को रोजगार के अवसर मिले। राजमिस्त्री की जगह महिलाएं रानीमिस्त्री बनीं।

उन्‍होंने कहा कि स्‍वच्‍छता से हम खुद और अपने बच्‍चों के जीवन को डायरिया व अन्‍य बीमारियों से बचा सकते हैं। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने बताया कि स्‍वच्‍छता से हमने करीब तीन लाख लोगों की जान बचाई। उन्‍होंने स्‍वच्‍छता को सेहत की कुंजी बताई और आयुष्‍मान यो‍जना सहित सरकार के अन्‍य कदमों की जानकारी दी।

श्रीकृष्ण की कर्मस्थली कुरुक्षेत्र पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने दिया स्‍वच्‍छता का नया मंत्र

उन्‍होंने महिलाओं के कल्‍याण व सुरक्षा के लिए उठाए गए कदमों के लिए हरियाणा की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि हरियाणा की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि हरियाणा ने सरकार स्‍वच्‍छता के क्षेत्र में भी शानदार काम किया है। उन्‍होंने अपनी सरकार द्वारा किए गए कार्यों का उल्‍लेख किया। उन्‍होंने महिलाओं के प्रति नया माहौल बनाने की जरूरत बताई। उन्‍होंने कहा कि हरियाणा में देखें कि कचरा से कंचन कैसे बन सकता है।

प्रधानमंत्री ने रिमोट से सात परियोजनाआें का उद्घाटन व शिलान्‍यास किया

उन्‍होंने कहा कि लोग उन्‍हाेंने कार्यक्रम में स्‍वच्‍छता अभियान की जानकारी लेने आए नाइजीरिया के शिष्‍टमंडल का भी स्‍वागत किया। उन्‍होंने कार्यक्रम के दौरान सात परियोजना का शुभारंभ किया। इसमें झज्‍जर के बाढ़सा में बना देश के सबसे बड़ा कैंसर संस्‍थान भी शामिल है। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने स्‍वच्‍छता के क्षेत्र में उत्‍कृष्‍ट कार्य करनेवाली महिलाओं को स्‍वच्‍छता शक्ति पुरस्‍कार भी प्रदान किया। कार्यक्रम के दौरान स्‍वच्‍छता पर पुस्तिका का भी विमोचन किया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में 21 एम्स काम कर रहे या फिर उन पर काम चल रहा। 14 एम्स पर काम हमारी सरकार में शुरू हुआ। रेवाड़ी के मनेठी के लोगों ने जमीन भी उपलब्ध कराई जिसके लिए ग्रामीणों को साधुवाद। जल्द ही इस पर काम शुरू होगा। घुटने और हृदय रोगों का इलाज सस्ता हुआ। जिला स्तर पर डायलिसिस की सुविधा मिली। पांच महीने में 11 लाख गरीबों काे आयुष्मान योजना के तहत इलाज मिला। उन्‍होंने कहा कि महिलाओं के योगदान बगैर कृषि क्षेत्र का विकास संभव नहीं।

मोदी ने कहा कि सत्य और न्याय का रास्ता कुरुक्षेत्र से निकला। कुरुक्षेत्र की धरती से ही हजारों साल पहले स्वच्छता का अभियान शुरू किया था श्रीकृष्ण ने। अनैतिकता को साफ करने का अभियान शुरू हुआ था। युग बदला। आज हम रोजमर्रा की जिंदगी में सफाई की लड़ाई लड़ रहे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश भर से पहुंचे सभी स्वच्छता ग्रहियों की मौजूदगी नए भारत के संकल्प को मजबूत करेगी। हरियाणा में पांच स्थानों पर बहुत बड़े कार्यक्रम समानांतर चल रहे। इस दौरान फरीदाबाद, करनाल, पानीपत, पंचकूला, झज्जर में चल रहे कार्यक्रमों में भी भारी भीड़ रही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि स्वच्छता की मुहिम में भागीदार बने सभी गांवों के लोगों का अभिवादन किया। उन्‍होंने कहा कि पहली बार हमने एेसी प्रतिस्पर्धा आयोजित की। इसमें शौचालय का सौंदर्यीकरण आधार बना। हर घर के बाहर इज्जत घर दिलाएगा गांवों को नई पहचान।      

पीएम मोदी ने कहा कि हरियाणा की धरती का विशेष आभार जताने आया क्योंकि  यहां की धरती से हमने जो भी बड़े लक्ष्य तय किए, उन्हें हासिल किया। पीएम उम्मीदवार घोषित होने के बाद पिछली बार मैंने यहीं के लोगों से आशीर्वाद लिया। तब फौजियों से आशीर्वाद लिया और अब माताओं से ले रहा हूं। पूर्व सैनिकों के लिए वन रैंक वन पेंशन का वादा इसी धरती से किया जो पूरा किया। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान भी यहीं से शुरू किया और पूरे देश में सफलता पाई। स्वच्छता अभियान के तीसरे संस्करण की शुरुआत भी हरियाणा से। ब्याज समेत लौटाने का प्रयास करता रहा हरियाणा से मिले सहयोग को।

प्रधानमंत्री ने उत्‍कृष्‍ठ कार्य करनेवाली महिलाओं को स्‍वच्‍छ शक्ति पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया

राज्यपाल एसएन आर्य ने स्वच्छता पर पुस्तिका का किया विमोचन। पहली प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंपी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में स्‍वच्‍छता के लिए उत्‍कृष्‍ठ कार्य करनेवाली महिलाओं को सम्‍मानित किया। मध्य प्रदेश की लक्ष्मी बाई को सबसे पहले स्वच्छ शक्ति पुरस्कार दिया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंचकूला की रेखा रानी को भी स्वच्छ शक्ति पुरस्कार दिया।

समारोह में 'स्‍वच्‍छ शक्ति 2019' से देशभर की महिलाओं को कर्म का संदेश भी देंगे। यहां पहुंचने पर प्रधानमंत्री का मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने स्‍वागत किया। मोदी मंच पर पहुंचे तो कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने नारे लगाकर व हर्ष घ्‍वनि से उनका स्‍वगात किया। प्रधानमंत्री ने स्‍वच्‍छता और सेहत पर लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन किया और इसके बाद कार्यक्रम के मंच पर पहुंचे। मंच पर प्रधानमंत्री का स्‍वागत कुरुक्षेत्र के देवीदासपुरा गांव की आठ बच्चियों ने किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने रिमोट का बटन दबाकर  झज्जर के बाढ़सा में निर्मित राष्ट्रीय कैंसर संस्थान का लोकार्पण किया। उन्‍होंने पंचकूला राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान का भी रिमोट के माध्‍यम से शिलान्यास किया। उन्‍होंने फरीदाबाद में निर्मित ईएसआइसी मेडिकल महाविद्यालय व अस्पतालका उद्घाटन किया तो  पानीपत में शहीद स्मारक की आधारशिला रखी। उन्‍होंने करनाल के कुटेल में बनने वाले पंडित दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय और कुरुक्षेत्र में  श्री कृष्ण आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास भी किया।

स्‍वच्‍छ शक्ति 2019 कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

देवीदासपुरा की आठ बच्चियों ने प्रधानमंत्री मोदी का स्‍वागत किया, पीएम ने सात प्रोजेक्‍ट को शुभारंभ किया

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने प्रधानमंत्री मोदी का स्‍वागत किया। उन्‍होंने कहा कि कुरुक्षेत्र की पावन धरती से पूरे विश्‍व को शांति और गीता का परम ज्ञान मिला। इसी तरह आज इस धरती से स्‍वच्‍छता का संदेश दिया जाएगा। उन्‍होंने स्‍वच्‍छता के लिए उठाने के लिए हरियाणा सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी। उन्‍होंने कहा, हरियाणा खुले में शौच से मुक्त हो चुका है और इस दिशा में आगे का कदम उठाने जा रहे हैं। उन्‍होेंने समाज आैर देश के नवनिर्माण में मातृशक्ति की भूमिका की चर्चा करते हुए कहा कि माताएं बाहरी स्‍वच्‍छता ही नहीं आंतरिक निर्मलता की भी वाहक बनें। वे विचारों की स्‍वच्‍छता में भूमिका निभाकर अच्‍छे संस्‍कारों वाले समाज की भूमिका निभा सकती हैं।

मनोहरलाल ने प्रदेश में 'बेटी बचाअो और बेटी पढ़ाओ' अभियान के तहत उठाए गए  कदमों की जानकारी दी। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य में इस अभियान के कारण राज्‍य में लिंगानुपात बढ़ा। उन्‍होंने म‍हिला श्‍ािक्षा के लिए उठाए गए कदमों के बारे में भी बताया। उन्‍होंने कहा कि आज हरियाणा में पढ़ी-लिखी पंचायतें हैं। राज्‍य में पंचायती चुनावों में शिक्षण योग्‍यता तय की। उन्‍होंने उज्‍ज्‍वला कार्यक्रम और चिकित्‍सा के क्षेत्र में राज्‍य सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में भी जानकारी दी।

महिलाओं ने हर्षध्‍वनि से प्रधानमंत्री का स्‍वागत किया, उमा भारती ने कहा-स्‍वच्‍छता सबकी जिम्‍मेदारीगां

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्‍वागत में हरियाण की कविता जैन ने भाषण दिया। कविता जैन ने कहा कि देश में 27 राज्य खुले में शौच मुक्त हुए हैं और इनमें हरियाणा अग्रणी है। इसका श्रेय महिलाओं को जाता है। समारोह को केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। उन्‍होंने महिलाओं को स्‍वच्‍छता का संदेश दिया। उन्‍होंने कहा कि गांवों में कचरे के प्रबंधन के लिए गोवर्द्धन योजना शुरू की गई है। इसकी शुरूआत हरियाणा से हो हाे रही है। उन्‍होंने कहा कि खुले में शौेच से मुक्ति महिलाओं का अधिकार है। इसके साथ ही गांवों को साफ रखना हर व्‍यक्ति की जिम्‍मेदारी है।

केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा सफाई मंत्री उमा भारती ने कहा कि नारी सम्मान के लिए ही महाभारत हुई। सप्तमी का दिन महाकाली का दिन है और यहां से महिलाओं के सम्मान की नई शुरुआत होगी। देश में 600 जिले आज खुले में शौचमुक्त हैं। हरियाणा की महिलाओं ने स्वच्छता में देश को राह दिखाई। उमा भारती ने कहा कि झारखंड की महिलाओं ने राजमिस्त्री की जगह रानीमिस्त्री की पहचान बनाई। झारखंड में 50 हजार से अधिक रानीमिस्त्री हैं। इस पर झारखंड से आई महिलाओं ने हाथ उठवाकर उमा भारती का अभिनंदन किया ।
इससे पहले सुबह करीब 11 बजे समाराेह में कार्यक्रम शुरू हुआ और विभिन्‍न राज्‍यों से अाईं महिलाएं विविध कार्यक्रम पेश किए। कार्यक्रम की अध्यक्षता राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य कर रहे हैंकार्यक्रम में भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष सुभाष बराला और अन्‍य नेता भी मौजूद हैं।

प्रदर्शनी का अवलोकन करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

पीएम मोदी के स्वागत के लिए धर्मनगरी कुरुक्षेत्र को दुल्‍हन की तरह सजाया गया है। इसी मौके पर प्रधानमंत्री मोदी हरियाणा को कई बड़ी परियोजनाओं की सौगात भी देकर जाएंगे। कार्यक्रम स्‍थल पर महिलाएं पहुंच गई हैं। इस स्वच्छ शक्ति- 2019 कार्यक्रम में देशभर से अाईं करीब साढ़े 22 हजार महिलाएं भाग लिया।

यह भी पढ़ें: महाभारत की धरती पर भाजपा के कृष्ण होंगे नरेंद्र मोदी, करेंगे 'न्‍याय युद्ध' का शंखनाद

इस कार्यक्रम के लिए प्रशासन की तरफ से सुरक्षा एवं व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए। कार्यक्रम में देश भर की महिलाओं की भागीदारी को देखते हुए प्रदेश के सभी जिलों से महिला पुलिस के 50 दुर्गा शक्ति वाहनों को महिलाओं की सुरक्षा के लिए विशेष तौर पर पूरे शहर में तैनात किया गया। कार्यक्रम में देश के विभिन्न राज्यों से करीब साढ़े सात हजार और हरियाणा प्रदेश से करीब 15 हजार स्वच्छता ग्रही महिलाएं पहुंचीं। इन महिलाओं के साथ-साथ तमाम मेहमानों के लिए प्रशासन की तरफ से पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।   

इससे पहले सोमवार को देश के विभिन्न राज्यों से आई महिलाओं ने कुरुक्षेत्र पैनोरमा, महिला पुलिस थाना, ज्योतिसर मत्स्य फार्म, भौर सैयंदा मशरुम फार्म, शाहाबाद हॉकी स्टेडियम, बीड़ सुजरा कचरा प्रबंधन प्रोजेक्ट सहित अन्य जगहों का अवलोकन किया। इस कार्यक्रम का आयोजन राज्य सरकार और वाटर एंड सेनिटेशन मंत्रालय भारत सरकार के तत्वावधान में किया जा रहा है।

कार्यक्रम में मौजूद महिलाएं।

इस दौरान देश के पहले आयुष विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र के साथ-साथ मेडिकल विश्वविद्यालय कुटेल, वॉर मेमोरियल पानीपत, एम्स अमेठी रेवाड़ी, राष्ट्रीय कैंसर अस्पताल झज्जर, आयुष पीजी कॉलेज पंचकुला की भी सौगात दिया। समारोह में करीब 22 हजार महिला प्रतिनिधियों की मौजूदगी में पीएम मोदी रिमोट के जरिए सात परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया।

प्रधानमंत्री आज करेंगे सात बड़े प्रोजेक्ट का शिलान्यास और लोकार्पण, पांच परियोजनाएं स्वास्थ्य से जुड़

 

इन प्रोजेक्ट से न केवल हरियाणा, बल्कि पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के लोगों को सीधा फायदा होगा। खासकर स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में। प्रधानमंत्री धर्मनगरी से रिमोट का बटन दबाकर जिन सात बड़ी परियोजनाओं का शुभारंभ किया उनमें पांच स्वास्थ्य से जुड़ी हैं।

कार्यक्रम में मौजूद महिलाएं।

 

झज्जर में राष्ट्रीय कैंसर इंस्टीट्यूट

बाढ़सा में बने देश के सबसे बड़े कैंसर अस्पताल नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट में इलाज की सेवाएं शुरू होने से हरियाणा, पंजाब, दिल्ली और राजस्थान सहित कई राज्यों के कैंसर मरीजों को भटकना नहीं पड़ेगा। करीब 2035 करोड़ रुपये से तैयार यह अस्पताल पब्लिक फंड से बना सबसे बड़ा हॉस्पिटल प्रोजेक्ट है।  कुरुक्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये उद्घाटन किया। इसके लिए बाढ़सा में भी समारोह आयोजित किया गया है। कार्यक्रम में मंच पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, हरियाणा के कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़, हरियाणा के मंत्री मनीष ग्रोवर, बनवारी लाल, सांसद धर्मबीर सिंह और सांसद दीपेंद्र हुड्डा मौजूद हैं।

 

बाढ़सा में आयोजित समारोह में मंच पर मौजूद नेता।

 दक्षिणी हरियाणा के रेवाड़ी में एम्स

हाल ही में पेश आम बजट में केंद्र सरकार ने रेवाड़ी के मनेठी में देश के 22वें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की घोषणा की थी। मनेठी की ग्राम पंचायत ने प्रोजेक्ट के लिए 200 एकड़ जमीन दी है। एम्स के बनने से प्रदेश के युवाओं को चिकित्सा में स्नातक और स्नातकोत्तर के नए अवसर मिलेंगे। एम्स से रेवाड़ी, महेंद्रगढ़, चरखी दादरी, भिवानी के साथ ही राजस्थान के झुंझनू और अलवर जिले के लोगों को सीधा फायदा होगा।

 

करनाल में मेडिकल यूनिवर्सिटी

करनाल के कुटेल में करीब सौ एकड़ में बनी पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय  से चिकित्‍सा शिक्षा की गुणवत्‍ता सुधरेगी। यूनिवर्सिटी से कई मेडिकल कॉलेज, नर्सिंग कालेज, डेंटल कॉलेज संबद्ध किए जाएंगे। यूनिवर्सिटी में 200 सीटों का मेडिकल कॉलेज, 750 से 1000 बिस्तर का अस्पताल, डेंटल कॉलेज और केंद्र सरकार से समन्वय के साथ कुछ मेडिकल इंस्टीट्यूट बनाए जाएंगे।

 

पानीपत में वॉर मेमोरियल

 

पानीपत में आयोजित कार्यक्रम में मौजूद लोग।

 

काला अंब के पास बनने जा रहे वॉर मेमोरियल की घोषणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वर्ष 2016 में की थी।  आठ से 20 एकड़ में बनने वाले स्मारक के लिए पिछले दिनों महाराष्ट्र सरकार ने तीन करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। प्रदेश सरकार इस पर पांच करोड़ रुपये खर्च करेगी। पानीपत मेें भी इस अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किया गया है। इसमें राज्‍य के शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा सहित कई गण्‍यमान्‍य लोग मौजूद हैं।

 

करनाल से कैथल फोरलेन मार्ग

करनाल के चिड़ाव मोड़ से लेकर कैथल तक करीब 60 किलोमीटर सड़क को फोरलेन करने से न केवल जाम से मुक्ति मिलेगी, बल्कि सफर में 30 से 45 मिनट का समय भी कम लगेगा। 163 करोड़ रुपये से सड़क के चौड़ीकरण के लिए करीब 12 हजार से अधिक पेड़ काटने पड़ेंगे। इस कारण फाइल केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय में अटक गई। अब केंद्र सरकार से प्रोजेक्ट को मंजूरी मिल गई है।

 

पंचकूला में आयुष कॉलेज

 

पंचकूला में अायोजित कार्यक्रम में मौजूद नेता।

 

पंचकूला के माता मनसा देवी मंदिर परिसर में बनने वाले नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद, योग एंड नेचुरोपैथी के लिए श्राइन बोर्ड की करीब 20 एकड़ जमीन आयुष विभाग को दी गई है। कॉलेज के शिलान्यास के लिए पहले तीन बार मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मंजूरी ली गई, लेकिन एन वक्त पर कार्यक्रम टालना पड़ा। केंद्रीय आयुष विभाग इस प्रोजेक्ट पर करीब 500 करोड़ रुपये खर्च करेगा। आयुर्वेद कॉलेज में भी इस अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किया गया । इसमें केंद्रीय आयुष राज्य मंत्री श्रीपद येसो नायक, हरियाणा विधानसभा के स्पीकर कंवर पाल गुज्जर, पंचकूला के विधायक ज्ञान चंद गुप्ता एवं आयुष विभाग के अधिकारी मौजूद हैं।
कुरुक्षेत्र में आयुष विश्‍वविद्यालय

कुरुक्षेत्र जिले के गांव फतुपुर में शुरू हो रही दुनिया की पहली आयुष विश्‍वविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर के पांच पाठ्यक्रम रखे गए हैं। करीब सौ एकड़ में बन रहे आयुष विश्वविद्यालय से आयुर्वेद को बढ़ावा मिलेगा और विद्यार्थी प्रदेश में ही एमडी कर सकेंगे। पीएम मोदी रिमोट से इस प्रोजेक्ट का लोकार्पण किया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप