जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : स्वास्थ्य सेवाओं में उत्कृष्ट कार्यों के लिए हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री विरेंद्र कंवर ने कुरुक्षेत्र के सर्जन डॉ. पवन गोयल को चंडीगढ़ में आयोजित एक कार्यक्रम में सम्मानित किया। इसी कार्यक्रम में पिहोवा से शहीद हुए सुशील कुमार को भी मरणोपरांत श्रद्धांजलि दी गई और उनके परिजनों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम एक ईंट शहीद के नाम अभियान की ओर से शुक्रवार को पंजाब कला भवन में आयोजित किया गया था।

दरअसल प्रणय मीडिया एवं एक ईंट शहीद के नाम अभियान की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। संस्था की ओर से अपने-अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले दस लोगों को शहीद बिक्रम जीत सिंह कर्मयोगी एक्सीलेंस अवार्ड 2019 से सम्मानित किया गया। आर्ट एंड कल्चर क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले विनय मलिक, सोशल वर्कर जगदीश दीवान, व्यापारी जितेंद्र, रोजगार देने के लिए कामधेनु कॉपरेटिव सोसाइटी, मरणोपरांत शहीद सुशील कुमार, उत्कृष्ट प्रशासनिक कार्य के लिए एसडीएम होशियारपुर मेजर अमित सरीन, खेल के लिए अभिषेक कश्यप और करण प्रीति, पर्यावरण के लिए अतुल परमार, स्पेशल ज्यूरी अवार्ड श्याम लाल, स्वास्थ्य के लिए डॉ. पवन कुमार गोयल को सम्मानित किया गया। एक ईंट शहीद के नाम अभियान के राष्ट्रीय संयोजक संजीव राणा ने कहा कि हम सब लोग अपना काम करते हैं, लेकिन जो लोग अपने से हटकर समाज और देश के बारे में कुछ करने की ख्वाहिश रखते हुए काम करता है वही सच्चे हीरो होते हैं। उन्होंने कहा कि डॉ. पवन गोयल चिकित्सीय क्षेत्र में आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों को न केवल निशुल्क चिकित्सा देते हैं बल्कि जरूरत पड़ने पर उनकी मदद भी करते हैं। डॉ. पवन गोयल ने इस सम्मान के लिए संस्था का आभार जताया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस