जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : मुख्यमंत्री के विशेष अधिकारी एडीजीपी ओपी सिंह ने बृहस्पतिवार को वीडियो कांफ्रेंसिग से जिले और उपमंडल स्तर पर आयोजित होने वाली राहगीरी के लिए पुलिस विभाग, राहगीरी के नोडल अधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने जिले में आयोजित होने वाली राहगीरी में एक दिसंबर को व‌र्ल्ड एड्स डे मनाएं और एड्स से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में लोगों को जागरूक करें। राहगीरी के माध्यम से लोगों के बीच संवाद स्थापित करें।

उन्होंने कहा कि राहगीरी एक ऐसा मंच है, जहां पर हम अपनी कला का प्रदर्शन दिखा सकते है, कई बार कुछ लोग अपनी प्रतिभा को नहीं दिखा पाते है, उनके लिए राहगीरी जैसे मंच बहुत महत्वपूर्ण है तथा राहगीरी में बहुत सारे खेल भी आयोजित किए जाते है, जो कि स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। उन्होंने कहा कि राहगीरी कार्यक्रम से संबंधित मुख्यमंत्री स्वयं समीक्षा करते हैं और सभी जिलों की रिपोर्ट को बारीकी से पढ़ते है। राहगीरी कार्यक्रमों में आमजन के साथ-साथ निजी संस्थाएं, अकेडमी, यूनियन के प्रतिनिधियों को भी जोड़ा जाए। जनसंपर्क विभाग के अधिकारी को भी निर्देश दिए कि राहगीरी कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार हो। उन्होंने यह भी बताया कि आगामी जनवरी से मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी जिलों में आयोजित होने वाली राहगीरी कार्यक्रम में शामिल होंगे। वीसी में लाडवा के एसडीएम अनिल यादव ने बताया कि जिले में अप्रैल से अब तक 11 राहगिरी आयोजित हो चुकी है, जिसमें करीब 29 हजार 785 लोग शिरकत कर चुके है। इस मौके पर थानेसर एसडीएम अश्विनी मलिक, एसडीएम पिहोवा डा. संजय कुमार, डीएसपी भारत भूषण, जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी यशवीर सिंह, एआइपीआरओ बलराम शर्मा, पुलिस पीआरओ रोशन लाल, नेहरू युवा केंद्र से लेखाकार कांता बतान और विजेता उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस