फोटो-21 व 21-ए

-19 अप्रैल को कनाडा में संदिग्ध परिस्थितियों में हो गई थी मौत

-कल शाम तक दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचेगा शव

-शवजन सोमवार को शाहाबाद में लेकर आएंगे शव जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : शाहाबाद की पूजा कॉलोनी के नवजोत सिंह के शव को एक महीने बाद अपनी मिट्टी नसीब होगी। नीफा संस्था के प्रयासों से उसके शव को कनाडा से लाने का रास्ता साफ हो गया है। रविवार शाम तक शव दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचेगा। इसके बाद सोमवार को अंतिम संस्कार किया जाएगा। शवजन पहले दिन से ही उसके शव को यहां लाने के लिए प्रयासरत हैं।

नीफा के चेयरमैन प्रीतपाल सिंह पन्नू ने बताया कि नवजोत सिंह के शवजनों से लगातार संपर्क किया जा रहा था। उन्होंने अपने बेटे के शव को सरकारी खर्च पर अपने देश लाने की अपील सरकार के सामने की थी। भारत सरकार ने इसको मंजूर कर दिया। उन्होंने कनाड़ा में हरियाणा कल्चर एंड स्पो‌र्ट्स क्लब कनाड़ा के वाइस प्रेजीडेंट, इंडियन एंबेसी में काउंसलर जनरल अर्पूवा श्रीवास्तव, काउंसलर डीपी सिंह से बात की। उन्होंने शव को भारत भेजने के लिए काफी प्रयास किए। इसके साथ शाहाबाद के मूल निवासी कनाड़ा वासी भूपेंद्र सिंह गिल, मिटू टक्कर और इंद्रजीत सिंह ने उनकी मदद की। उन्होंने बच्चे के शव को वहां पर फ्रिज में रखवाया। इसके बाद शुक्रवार को शव एयरपोर्ट पर प्लेन में रखवाया गया।

यह है मामला

शाहाबाद की पूजा कॉलोनी के नवजोत सिंह की 19 अप्रैल की रात को कनाड़ा में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। शवजनों के अनुसार वह तीन सितंबर 2019 को कनाडा गया था। वहां हंबर कॉलेज में बीकॉम फाइनेंस में पढ़ता था और वह क्रेसेंट ब्रेमटन ऑन में रहता था। शवजनों के अनुसार 19 अप्रैल को उनकी उससे बात हुई थी। उस वक्त वह ठीक था और परीक्षा अच्छी होने पर खुश नजर आ रहा था। 20 अप्रैल सुबह एंबेसी ने फोन कर उसकी मौत की जानकारी दी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस