संवाद सहयोगी, पिहोवा: थाना पिहोवा के अंतर्गत एक व्यक्ति को हनी ट्रैप में फंसा कर उससे एक लाख रुपये हड़पने का मामला सामने आया है। आरोपितों ने पीड़ित का आधार कार्ड लेकर उसकी छह एकड़ जमीन भी खुर्द बुर्द कर दी। डीएसपी की जांच के बाद पुलिस ने छह लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

एक व्यक्ति ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि 28 दिसंबर 2019 को वह अनाज मंडी स्थित सतीश की दुकान पर बैठा था। उसी समय उसके फोन पर एक लड़की का फोन आया, जिसने उसे मिलने के लिए कहा। लड़की ने बताया कि उसका नंबर मोहाली निवासी सज्जन सिंह ने दिया है। उसने उसे अंबाला आकर मिलने की बात कही, लेकिन महेंद्र ने अंबाला जाने से मना कर दिया था। लड़की ने अपनी कोई मजबूरी बताते हुए कहा कि वह इस्माईलाबाद आ जाती है, वह उसे वहां मिल ले। वह और सतीश कार से इस्माईलाबाद पहुंचे। लड़की सतीश को देखकर कार में बैठ गई। शिकायतकर्ता को लगा कि वह सतीश को पहले से जानती थी। उसके बाद वे पिहोवा स्थित शिकायतकर्ता की कोठी पुहंचे। इस दौरान उसके मोबाइल पर फोन आ गया और वह बाहर आकर फोन सुनने लगा। सतीश और वह लड़की अंदर कमरे में ही बैठे रहे। कुछ समय बाद वह कमरे में गया तो लड़की बोली कि उसे उसकी फीस देकर वह अड्डे पर छोड़ दे। सतीश ने कहा कि वह उसे दो हजार रुपये दे दे, वह उसे बाद में लौटा देगा। सतीश के कहने पर वह लड़की को दो हजार रुपये देकर बस अड्डे पर छोड़ आया। मिलीभगत से कराया था मामला दर्ज

आरोप है कि पिहोवा निवासी सतीश कुमार, उसके साथी गोबिद राम, लक्ष्मी शर्मा, सज्जन सिंह, जसबीर सिंह व सुनील यादव ने लड़की को साथ लेकर महिला थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज करवा दिया। 29 दिसंबर 2019 को उसके पास महिला थाने से इस संबंध में फोन आया। जसबीर सिंह व सतीश कुमार उसके घर पहुंचे और मामला निपटाने की एवज में आधार कार्ड की फोटोकॉपी और एक लाख रुपये लिए। 30 दिसंबर को महिला थाने से पुलिस कर्मी उसके घर आया, लेकिन वह घर पर नहीं था। बाद में उसने महिला थाना में पेश होकर सारी सच्चाई उनके समक्ष रख दी थी। केस रफा-दफा कराने की एवज में मांगे थे 20 लाख रुपये

शिकायतकर्ता ने बताया कि 14 जनवरी 2020 को दो लोग उसके घर पर आए और उससे केस रफा-दफा करने की एवज में 20 लाख रुपये मांगे। उसके पूछने पर उन लोगों ने बताया कि उन्हें सतीश कुमार, सज्जन सिंह व जसबीर सिंह ने भेजा है। शिकायतकर्ता ने 20 लाख रुपये देने से इनकार कर दिया। झूठी पावर ऑफ अटॉर्नी बनाकर खुर्द-बुर्द की छह एकड़ जमीन

शिकायतकर्ता का आरोप है कि आरोपितों ने झूठी पावर ऑफ अटॉर्नी बनाकर उसकी छह एकड़ जमीन खुर्द-बुर्द कर दी। उसने डीएसपी पिहोवा को शिकायत दी कि कुछ लोग उसे ब्लैकमेल कर रहे हैं। डीएसपी पिहोवा के निर्देश पर पुलिस ने आरोपित सतीश बाटा, सज्जन सिंह, जसबीर, गोबिद राम, लक्ष्मी शर्मा व सुनील यादव के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। पुलिस कर रही है मामले की जांच : चौकी प्रभारी

पिहोवा के शहर चौकी प्रभारी राजपाल ने बताया कि इस मामले में पहले शिकायतकर्ता के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया था। जिसे जांच के दौरान कैंसल कर दिया था। अब आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज जांच आरंभ की है। जांच में आरोपितों को शामिल कर पूरी जानकारी हासिल की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस