जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : शहर को जल भराव से मुक्ति दिलाने के लिए बनाया जा रहे नाले को लेकर विधायक से लेकर जिला प्रशासन के अधिकारी भले ही श्रेय लेने में जुट गए हों लेकिन नाला के निर्माण में की जा रही अनियमितता के कारण उद्देश्य पूरा होता नहीं दिख रहा है। निर्माण के बाद बिना सफाई के ही नाले के ऊपर लेंटर डालकर ढका जा रहा है। ऐसे में पहले से मलबे से भरा नाला वर्षा के समय जवाब दे देगा।

बता दें कि नाले के निर्माण में हो रही अनियमितता के चलते एक अधिकारी से चार्ज छीनकर दूसरे अधिकारी को दे दिया गया था। निर्माण कार्य में तेजी तो आई लेकिन अनियमितता जारी है जिसका खामियाजा आने वाले समय में शहरवासियों को भुगतना पड़ेगा। विधायक सुभाष सुधा भी नाला निर्माण में लापरवाही को लेकर ठेकेदार को फटकार लगा चुके हैं लेकिन उसका असर दिख नहीं रहा है।

फोटो संख्या : 28

बरती जा रही अनियमितताएं

शहरवासी बल¨वद्र ¨सह का कहना है कि रेलवे रोड पर नाला निर्माण को लेकर अनियमितताएं बरती जा रही हैं। नाले को ढकने के दौरान लापरवाही बरती जा रही है। जगह-जगह से सड़क को खोदा गया है। इसके चलते कई जगह से आवाजाही बंद है। जहां पर नाले के ऊपर पुलिया बनाई गई है, वहां पर लेव¨लग नहीं की गई है। इसके कारण लोगों को आवाजाही में परेशानी हो रही है।

फोटो संख्या : 29

धीमी गति से चल रहा निर्माण कार्य

शहरवासी हरिराम पाल का कहना है कि रेलवे रोड पर निर्माण कार्य धीमी गति से चल रहा है। इसके चलते राहगीरों को परेशानी उठानी पड़ रही है। बारिश होने पर स्थिति ओर बिगड़ जाती है। सड़क पर मलबा पड़ा होने के कारण फिसलने से राहगीर चोटिल होते हैं।

बिजली निगम को दिए गए थे निर्देश

रेलवे रोड पर विधायक सुभाष सुधा ने बिजली निगम व नगर परिषद के अधिकारियों को भी लापरवाही बरतने पर फटकार लगा चुके हैं। रेलवे रोड पर बिजली निगम की ओर से 200 खंभे लगाने हैं, जिसे जल्द पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। मगर बिजली निगम खंभे गाड़ने में लापरवाही बरती जा रही है। इसके अतिरिक्त नगर परिषद को सात दिनों के भीतर मलबा उठाने के निर्देश दिए थे, लेकिन मलबा हटाने के बाद सड़क को समतल नहीं किया गया। रास्ता साफ न होने के कारण हर रोज जाम की स्थिति रहती है।

यह है योजना

मुख्यमंत्री घोषणा के अंतर्गत छठी पातशाही गुरुद्वारा से लेकर शर्मा टाइप कॉलेज तक रेलवे रोड का सुंदरीकरण किया जाएगा। पीडब्ल्यूडी विभाग की ओर से रेलवे रोड पर दोनों तरफ 1630-1630 मीटर नाले का निर्माण किया जाना है। फिलहाल एक तरफ नाले का निर्माण किया जा रहा है। नाला निर्माण एवं सड़क निर्माण पर 2.40 करोड़ रुपये की राशि खर्च होगी। सरकार की ओर से नाला निर्माण के लिए 45 लाख रुपये की राशि रिलीज की जा चुकी है।

फोटो संख्या : 30

शांतिनगर सड़क की हालत खस्ता

रेलवे रोड के साथ पुराने बाई पास व पिहोवा रोड को जोड़ने वाली सड़क की हालत भी खस्ता है। वार्ड नंबर 26 व 27 के बा¨शदों ने सड़क निर्माण को लेकर

को लेकर प्रदर्शन कर चुके हैं। नगर परिषद की ओर से सड़क निर्माण में कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। बृहस्पतिवार को भी वार्ड वासियों ने रोष जताया। वार्डवासियों का कहना है कि सड़क निर्माण को लेकर कई बार प्रशासन को गुहार लगा चुके हैं। विधायक भी सड़क निर्माण कार्य का शुभारंभ कर चुके थे, लेकिन अभी तक सड़क का निर्माण पूरा नहीं हो पाया है। वार्ड पार्षद संदीप टेका, इशम ¨सह, रणधीर मलिक, प्रताप राणा का कहना है कि वार्ड वासी नगर परिषद से लेकर उपायुक्त तक सड़क बनाने को लेकर ज्ञापन सौंप चुके हैं, लेकिन अभी तक नगर परिषद ने निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है।

कराई जा रही सफाई : कंबोज

रेलवे रोड पर बनाए जा रहे नाले की सफाई कराई जा रही है। ठेकेदार को निर्देश दिए गए हैं कि नाले को ढकने से पहले उसकी सही तरीके से सफाई की जाए ताकि पानी निकासी सुचारू रूप से हो सके। यदि कहीं नाले में मिट्टी या ईंट पड़ी है, उसे भी तुरंत साफ किया जाएगा।

जेपी कंबोज, कार्यकारी अभियंता पीडब्ल्यूडी विभाग।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस