कुरुक्षेत्र, [अनुराग अग्रवाल]। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को चुनावी महाभारत से पहले महाभारत की धरती धर्मनगरी कुुरुक्षेत्र से भाजपा के कृष्‍ण बने। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में हर साल औसतन तीन बार हरियाणा आ चुके प्रधानमंत्री मोदी का इस बार का दौरा बेहद खास  था। देश भर की महिलाओं को स्वच्छता का संदेश देने के लिए मोदी मंगलवार को धर्मनगरी कुरुक्षेत्र आए और महिलाओं के लिए स्‍वच्‍छता के बहाने 'न्‍याय युद्ध' का शंखनाद किया। इस ' न्‍याय युद्ध' में  नारी शक्ति के उत्‍थान और उनके सम्‍मान की रक्षा का संकल्‍प है। इसके साथ ही महाभारत की धरती और गीता की जन्मस्थली कुरुक्षेत्र से मोदी एक ऐसी लड़ाई का आगाज किया, जो भाजपा के मिशन 2019 को फतेह करने की तैयारियों से जुड़ी है।

उत्तर हरियाणा की धर्मनगरी कुरुक्षेत्र से करेंगे भाजपा के मिशन 2019 का आगाज

2019 की इस चुनावी जंग में एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की जोड़ी होगी तो दूसरी तरफ कांग्रेस समेत तमाम राजनीतिक दल हैं। केंद्र में दोबारा सरकार बनाने के लिए मोदी और शाह की जोड़ी को एक-एक सीट की दरकार है। हरियाणा से10 लोकसभा सीटें हैं, जिनमें से सात पर भाजपा और तीन पर विपक्ष का कब्जा है। प्रदेश की आठ लोकसभा सीटें ऐसी हैं, जहां भाजपा को इस बार किसी न किसी कारण से प्रत्याशियों में बदलाव करना पड़ रहा है।

पीएम के कार्यक्रम के लिए व्‍यवस्‍थाओं का जायजा लेते अधिकारी।

महिलाएं व युवा भाजपा के एजेंडे में टाप पर, सात परियोजनाओं की मिलेगी सौगात

पीएम मोदी ने मिशन 2019 का आगाज करने के लिए उत्तर हरियाणा की धरती को खास मकसद से चुना। जीटी रोड बेल्ट से लेकर उत्तर हरियाणा के यमुनानगर जिले तक चार लोकसभा सीटों कुरुक्षेत्र, अंबाला, करनाल और सोनीपत पर भाजपा का कब्जा है। इन चारों लोकसभा सीटों के दायरे में आने वाली करीब 24 विधानसभा सीटों पर जीत की बदौलत ही भाजपा हरियाणा में अपनी सरकार बनाने में कामयाब हो सकी। मोदी ने कुरुक्षेत्र में चुनावी रणभेरी बजाकर जहां उत्तर हरियाणा खासकर जीटी रोड बेल्ट को अपनेपन का संदेश दिया, साथ ही जाटलैंड समेत राज्य के बाकी हिस्सों में भी चुनाव प्रचार का आगाज भी किया।

कार्यक्रम में भाग लेने देशभर से आईं महिलाएं।

देश की 15 हजार और हरियाणा की साढ़े सात हजार महिलाओं के जरिये घर-घर में प्रवेश की तैयारी

भाजपा के एजेंडे पर इस बार महिलाएं और युवा मतदाता खास अहमियत रखते हैं। देशभर की करीब साढ़े 22 हजार और हरियाणा की करीब 15 हजार महिलाओं को संबोधित किया। इस तरह से मोदी घर-घर में प्रवेश करने की रणनीति पर आगे बढ़ रहे हैं। उत्तर हरियाणा भाजपा के लिए बेहद उपजाऊ माना जाता है। यहां से मुख्यमंत्री मनोहर लाल के अलावा कैबिनेट मंत्री अनिल विज, नायब सैनी, कर्ण देव कांबोज और विधानसभा स्पीकर कंवरपाल गुर्जर सरकार में अहम ओहदों पर काम कर रहे हैं।

विधानसभा में भाजपा के सचेतक ज्ञान चंद गुप्ता भी उत्तर हरियाणा से हैं। लिहाजा भाजपा यहां न केवल अपने गढ़ को मजबूत करने की रणनीति पर आगे बढ़ रही है, बल्कि कुरुक्षेत्र के बागी सांसद राजकुमार सैनी को भी आइना दिखाने की कोशिश में हैं।

भाजपा में नए उत्साह का संचार करेगा मोदी का दौरा

प्रधानमंत्री मोदी कुरुक्षेत्र में आयोजित स्वच्छ शक्ति 2019 अभियान के तहत अपने मंत्रियों व कार्यकर्ताओं को मनोबल बढ़ाने के साथ-साथ पार्टी के लिए चुनावी जमीन को मजबूत करने का काम किया। भाजपा के बागी सांसद राजकुमार सैनी के नेतृत्व वाली लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी उत्तरी हरियाणा में अपनी पकड़ मजबूत होने का दम भरती है। ऐसे में भाजपा ने बेहद रणनीतिक फैसला कर मोदी का कार्यक्रम कुरूक्षेत्र में रखा। भाजपा अब सैनी से पूरी तरह नाता तोड़ चुकी है।

मोदी के लिए सकारात्मक रहा है हरियाणा से चुनावी युद्ध का आगाज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए हरियाणा से राजनीतिक युद्ध की शुरूआत शुभ रही है। पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने जब उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया था, तब मोदी ने सबसे पहली रैली दक्षिण हरियाणा के रेवाड़ी में की थी। अब अटकलों के अनुरूप मार्च माह के पहले सप्ताह में चुनाव की घोषणा होने जा रही है तो ऐसे में मोदी फिर से हरियाणा के माध्यम से अपनी चुनावी जनसभाओं को शुरू करने जा रहे हैं। इसके लिए उन्होंने कुरुक्षेत्र की धरती को चुना है।

 

Posted By: Sunil Kumar Jha