पिहोवा: श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में गुरुद्वारा बाउली साहिब से आयोजित प्रभातफेरी गांव छज्जुपूर में मनरुप सिंह के निवास पर पहुंची। आयोजक परिवार की ओर से प्रभातफेरी का स्वागत किया गया। कथावाचक जगतार सिंह ने गुरु नानक देव जी ने फरमाया कि मनुष्य द्वारा परमात्मा से उसके नाम सिमरन के बिना कुछ मांगना एक प्रकार से दुख मांगना है। मनुष्य को उस परमात्मा से संतुष्टि मांगनी चाहिए। जिससे उसकी सांसारिक पदाथरे की तृष्णा मिट जाए। रागी बलविद्र सिंह के जत्थे ने कल तारण गुरु नानक आया गुरुबाणी शब्द द्वारा संगत को निहाल किया। सोमवार को प्रभातफेरी फौजी प्लाट में मलूक सिंह के निवास पर पहुंचेगी। इस मौके पर कुलदीप सिंह मुलतानी, बलवंत सिंह बहल, जरनैल सिंह, सुखदेव सिंह मेहता, हरप्रीत सिंह, कंवलजीत सिंह, जसपाल सिंह सहित संगत मौजूद रही।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस