- पुलिस की अपराध शाखा एक ने 12 फरवरी को हनी ट्रैप मामले में दो महिलाओं सहित तीन युवकों किया था गिरफ्तार

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : पुलिस की अपराध शाखा ने हनी ट्रैप मामले में मुख्य आरोपित को गिरफ्तार किया है। मामले में पुलिस ने पहले दो महिलाओं सहित तीन युवकों को गिरफ्तार किया था, जबकि मामले का मुख्य आरोपित फरार चल रहा था। मुख्य आरोपित कैथल निवासी पवन को वारदात में प्रयोग की गई बिना नंबर की स्कूटी के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपित को अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। आरोपित से 12 लाख का चेक व एक मोबाइल बरामद किया जाना था।

11 जनवरी 2018 को थाना केयूके में गीता कॉलोनी निवासी अमन जोशी ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी दुकान पर एक लड़की आई तथा उसने मुलाकात कर एक दूसरी लड़की से कराई। उसे अपने आफिस के काम से पिहोवा जाना था तो वह लड़की के कहने लगी कि मुझे भी नरकातारी रोड पर छोड़ देना। उस लड़की को अपनी मारुति कार में लिफ्ट दे दी। कुवि के पास पहुंचे तो लड़की ने किसी को फोन किया। जब वे नरकातारी मोड़ पर पहुंचे तो वहां तीन लड़के आए और उन्होंने उसकी कार की चाबी निकाल ली तथा मारपीट करके उसकी दो सोने की अंगूठी, एक गले की चेन लोकेट, एक हाथ में पहनने की चेन, मोबाइल फोन छीन लिये। लड़की को उतारकर तीनों लड़के उसको गाडी में बिठाकर इधर उधर घुमाते रहे तथा 10 लाख रुपये की मांग की। उसने अपनी गाड़ी में पड़ा बिना नाम का 12 लाख का चेक उनको दे दिए थे। सूचना पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ अपहरण, मारपीट करने, जेवर छीनने, धमकी देने सहित धाराओं में मामला दर्ज जांच पुलिस की अपराध शाखा एक को सौंपी थी। मामले में मुख्य आरोपित पवन कुमार गिरफ्तारी बाकी थी। पुलिस की अपराध शाखा एक के सहायक उपनिरीक्षक सत्यनारायण, एएसआई राजेश कुमार व सिपाही हरप्रीत ¨सह की टीम ने मामले के मुख्य आरोपित पवन को वारदात में प्रयोग की गई बिना नंबर की स्कूटी के साथ गिरफ्तार किया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप