जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : पंजाब के शहर नाभा से विवाह में स्टाल लगाने का काम खत्म कर अपने गांव लौट रहे युवक को मोटरसाइकिल पर लिफ्ट लेना महंगा पड़ा। मोटरसाइकिल सवारों ने उससे 10 हजार रुपये व मोबाइल छीन लिया और बीच रास्ते में छोड़ कर फरार हो गया। शाहाबाद थाना पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर लिया है।

बाबैन के गांव कंदौली निवासी पंकज कुमार ने शाहाबाद थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि तीन अप्रैल को वह पंजाब के नाभा शहर में विवाह में स्टाल का काम खत्म करके सायं साढ़े चार बजे गांव के लिए चला था। रात साढ़े आठ बजे वह लाडवा चौक शाहाबाद पहुंचा तो कोई साधन न मिलने के कारण वहीं खड़ा हो गया। कुछ समय बाद एक मोटरसाइकिल सवार व्यक्ति आया। उसके इशारा करने पर उसने मोटरसाइकिल रोक ली।

शिकायतकर्ता ने उसे बताया कि उसने गांव कंदौली जाना है। आरोपित ने उसे कहा कि वह लाडवा जा रहा है। वह उसके साथ मोटरसाइकिल पर बैठ गया। मोटरसाइकिल सवार ने शाहाबाद के देवी मंदिर चौक पर जाकर कहा कि एक व्यक्ति को उसने लाडवा लेकर जाना है। जिसने देवी मंदिर चौक से अपनी मोटरसाइकिल को मोड़ लिया और लाडवा चौक व बराडा चौक से होते हुए डेहा बस्ती शाहाबाद में आ गए, जहां पर उसने उसके मोबाइल से किसी को फोन किया। डेहा बस्ती से एक लड़का और आ गया। वह भी मोटरसाइकिल पर पीछे बैठ गया।

वह तीनों अनाज मंडी बराड़ा मोड़ पर ठेके पर गए, जहां दोनों आरोपितों ने शराब पी। शराब पीने के बाद वे तीनों मोटरसाइकिल पर सवार होकर जोगी माजरा की तरफ कच्चे रास्ते पर चले गए। लगभग एक किलोमीटर जाने के बाद उन्होंने मोटरसाइकिल रोक ली और एक आरोपित ने उसके हाथ पकड़ लिए व दूसरे ने जबरदस्ती उसकी जेब से 10 हजार रुपये निकाल लिए। पैसे व मोबाइल छीन कर आरोपित वहां से मोटरसाइकिल सहित शाहाबाद की तरफ भाग गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच एएसआइ मनोज कुमार को सौंपी है। जांच अधिकारी एएसआइ मनोज कुमार ने बताया कि पुलिस मामले में साइबर सैल की मदद ले रही है। पुलिस जल्द ही आरोपितों को सुराग लगा लेगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप