जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : भारत सरकार के जल संसाधन निधि केंद्रीय राज्यमंत्री रतन लाल कटारिया ने कहा कि हरियाणा के 60 फीसद खंडों में पानी की स्थिति चिताजनक है। प्रदेश सहित देश के सात राज्यों में जल संरक्षण व भूजल रिचार्ज करने पर छह हजार करोड़ रुपये का बजट खर्च किया जाएगा। सरकार की ओर से हर घर तक जल योजना के अंतर्गत 15 करोड़ घरों तक पीने के पानी के कनेक्शन दिए जाएंगे। इस योजना पर तीन लाख 40 हजार करोड़ की राशि खर्च की जाएगी। इस लक्ष्य को वर्ष 2024 तक पूरा किया जाएगा।

कटारिया कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के सभागार में राष्ट्रीय जल मिशन की ओर से आयोजित कृषि के लिए पानी के सदुपयोग सही फसल कार्यशाला में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अटल भूजल योजना को अमलीजामा पहनाने का काम किया है। सरकार ने वर्ष 2060 की आबादी को लेकर सभी योजनाएं तैयार की हैं ताकि देश वासियों को मूलभूत सुविधाएं मुहैया करवाई जा सकें। शहरी निकाय मंत्रालय की ओर से एक कानून भी बनाया गया है कि आने वाले समय 100 गज के मकान का निर्माण करने के लिए जल सरंक्षण व रिचार्ज प्रणाली को अपनाना होगा। देश में कृषि पर 70 प्रतिशत जल लगता है। उन्होंने किसानों को पानी बचाने की शपथ भी दिलाई। खेल एवं युवा मामले मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने पिहोवा हलके से ही टपका सिचाई प्रणाली का शुभारंभ किया था। पानी के बिना जीवन की कल्पना करना भी मुश्किल है। राष्ट्रीय जल मिशन के निदेशक एवं अतिरिक्त सचिव आइएएस जी अशोक कुमार ने कहा कि आने वाली पीढि़यों के लिए जल बचाना होगा। इसके लिए सरकार और जनता दोनों स्तर पर मिलकर प्रयास करने होंगे। किसानों को सही फसल के विकल्प का चयन करना होगा। चावल पर सबसे ज्यादा पानी की लागत होती है और यही चावल देश के गोदामों में पड़ा सड़ रहा है। ऐसे में जरूरी है कि फसलों का सही चयन किया जाए। भारत सरकार जल शक्ति मंत्रालय के सचिव यू पी सिंह ने कहा कि भारत सरकार की तरफ से भूजल को रिचार्ज करने और जल का सदुपयोग करने के प्रति राष्ट्रस्तर पर एक अभियान चलाया है, इसके अलावा सरकार की तरफ से अनेकों योजनाओं को अमलीजामा पहनाया गया है। इस मौके पर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त निदेशक सुरेश अहलावत, सीजीडब्लयूवी के क्षेत्रीय निदेशक अनूप नागर, डॉ. रमेश कुमार यादव, सलाहकार सुनील कुमार अरोड़ा, भाजपा के जिलाध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर, एडीसी वीना हुड्डा, डा. हरिओम, डीडीए डा. प्रदीप मिल, रविद्र सांगवान मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस