-पांच वर्ष से कम आयु के करीब एक लाख बच्चों को किया जाएगा शामिल जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : जिले में एक जुलाई शुक्रवार को सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़ा मनाया जाएगा। इसमें पांच साल आयु तक के एक लाख बच्चों को शामिल किया गया है। आशा वर्कर अपने-अपने क्षेत्रों में ओआरएस के पैकेट वितरण करेंगी।

उप सिविल सर्जन डा. अनुपमा सिंह ने बताया कि पांच साल के बच्चों की मृत्यु दर को कम करने और इस आयु वर्ग में लगभग 10 प्रतिशत मृत्यु दस्त व उसकी जटिलताओं की वजह से होती है। इसका लक्ष्य दस्त के सबसे सस्ते और प्रभावकारी उपचार मौखिक पुनर्जलीकरण साल्ट के मिश्रण ओआरएस घोल और जिक टैबलेट का प्रयोग करने की जन जागरूकता पैदा करना है।

उन्होंने बताया कि पखवाड़े के दौरान गांव, जिला स्तर पर स्वच्छता के लिए गहन समुदाय जागरूकता अभियान और ओआरएस व जींक थेरेपी का प्रचार किया जाएगा। आशा कार्यकर्ता अपने गांवों में पांच वर्षों से कम आयु के बच्चों वाले घरों में ओआरएस के पैकेट वितरण करेगी। प्रथम पंक्ति की कार्यकर्ता एएनएम आशा वर्कर ओआरएस घोल तैयार करने की विधि प्रदर्शन के साथ-साथ, खान-पान और स्वच्छता संबंधी परामर्श देगी, स्वास्थ्य संस्थाओं ओर ओआरएस-जिक कार्नर स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि दस्त के कारण होने वाली लगभग सभी मृत्यु को मौखिक पुनर्जलीकरण साल्ट के मिश्रण ओआरएस और जिक गोलियों के प्रयोग द्वारा शरीर में जल की कमी के उपचार के साथ-साथ बच्चों को भोजन में पर्याप्त पोषक तत्व देकर रोका जा सकता है और शुद्ध पेयजल, स्वच्छता, स्तनपान, समुचित पोषण और हाथ धोकर दस्त से बचाव किया जा सकता है।

Edited By: Jagran