जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में पीएचडी की छात्रा से अभद्र व्यवहार करने की शिकायत पर पुलिस की ओर से कार्रवाई न करने के मामले में राज्य मानवाधिकार आयोग ने कड़ा संज्ञान लिया है। मानवाधिकार आयोग ने जिला पुलिस को एसआइटी गठित करने के निर्देश दिए हैं। एसआइटी गठित कर पुलिस को 26 नवंबर तक रिपोर्ट देनी होगी।

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में पीएचडी की छात्रा ने 21 अक्टूबर, 2018 को शिकायत दी थी कि एक छात्र ने उसके साथ छेड़छाड़ की थी। इस शिकायत पुलिस ने कई दिनों तक कार्रवाई नहीं की। इससे क्षुब्ध छात्रा ने इस बारे में एसपी कुरुक्षेत्र, सीएम और राज्य मानवाधिकार आयोग को ई-मेल कर दी। शिकायत में आरोप लगाया कि थाना महिला पुलिस की एक आइओ ने डीएसपी के कहने पर छात्रा की शिकायत पर कार्रवाई करने के बजाय उसी छात्रा पर आरोपित की पत्नी की शिकायत को लेकर केस दर्ज कर दिया। हालांकि छात्रा ने हार नहीं मानी और विभिन्न माध्यमों से अपनी लड़ाई जारी रही। मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष ने छात्रा के बयान और केस के पहलुओं को देखते हुए एसआइटी का गठन कर मामले की दोबारा जांच कर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं। छात्रा का कहना है कि उसे उम्मीद थी कि उसे न्याय अवश्य मिलेगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप