जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : गांव अमीन के अंकुश हत्याकांड में पुलिस ने पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया है। रंजिश के चलते आरोपितों ने अंकुश पर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया था। जिसके बाद अंकुश ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था। पुलिस ने आरोपितों को अदालत में पेश किया। अदालत ने उन्हें एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। रिमांड के दौरान पुलिस आरोपितों से वारदात में प्रयोग किए हथियार बरामद करेगी। वहीं पुलिस मामले में अन्य आरोपितों की तलाश में जुटी है।

पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र पाल ¨सह ने बताया कि 24 नवंबर की रात को गांव अमीन निवासी रवि, गुलशन ने अपने 10-12 साथियों के साथ गांव में तीन स्थानों पर हथियारों, डंडो, ¨बडों व गंडासी के साथ मारपीट की थी। हमले में अंकुश पुत्र सतीश कुमार को गंभीर रूप से घायल कर दिया था। इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। वारदात के बाद से आरोपित फरार थे। पुलिस उपाधीक्षक गुरमेल ¨सह की अध्यक्षता में एसआईटी गठित की गई थी। जिसमें डिटेक्टिव स्टाफ प्रभारी राजेश कुमार व थाना केयूके प्रभारी छोटू राम की टीमें बनाई गई थी। आरोपित कई दिनों से पुलिस को चकमा दे रहे थे। उमरी चौक से गिरफ्तार किए आरोपित

एसपी ने बताया कि थाना केयूके प्रभारी छोटू राम को सूचना मिली थी कि अंकुश की हत्या करने वाले पांच युवक उमरी चौक से करनाल की तरफ जाने वाले है। पुलिस ने मौके पर पहुंच पांचों को काबू किया। पूछताछ में आरोपितों ने अपना नाम गांव अमीन निवासी रवि, गुलशन, बिरला मंदिर के समीप रहने वाला मोहित शर्मा, मोहन नगर निवासी राहुल मलिक व गांव बारवा निवासी अनूप बताया। पूछताछ पर आरोपितों ने बताया कि उन्होंने 24 नवंबर को गांव अमीन में तीन जगहों पर मारपीट की थी। जिसमें अंकुश पुत्र सतीश कुमार को भी पीटा था। जिसकी बाद में मौत हो गई है उस दिन वह 12 लड़के थे। सबसे पहले उन्होंने गांव अमीन में शराब के ठेके पर मारपीट की, उसके बाद अंकुश के घर पर जाकर उनसे मारपीट की। उसके बाद सौरभ शर्मा पुत्र अनिल कुमार के घर पर मारपीट की। वारदात के बाद वे अपनी-अपनी मोटरसाइकिलों पर वहां से भाग गए थे। अंकुश के साथ हो गई थी अनबन

पूछताछ पर रवि ने बताया कि पहले गुलशन, सौरभ व अंकुश सभी इकट्ठे बैठते थे। दो माह पहले उनकी किसी बात को लेकर आपस में अनबन हो गई थी। जिसके उपरांत उनके बीच तनाव बढ़ गया और वह आपस में एक दूसरे को मरने मारने पर उतारू हो गए थे। इसी को लेकर उसने अपने साथियों के साथ मिल कर अंकुश को मजा चखान की योजना बनाई। योजना के मुताबिक उन्होंने 24 नवम्बर की रात को देशी कट्टे, डंडे, ¨बडे, गंडासी व सुए के साथ सतीश को पिटा था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप