संवाद सहयोगी, शाहाबाद : भारतीय किसान यूनियन ने शुक्रवार को शहीद उधम सिंह स्मारक परिसर में बैठक कर 26 जनवरी की ट्रैक्टर परेड को लेकर किसानों की ड्यूटियां लगाई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए भाकियू प्रेस प्रवक्ता राकेश बैंस व जसबीर सिंह मामूमाजरा ने कहा कि ट्रैक्टर परेड को लेकर गांव स्तर पर कमेटियां बनाई जाएंगी। यह कमेटियों गांवों में ट्रैक्टर परेड के लिए किसानों के पास पहुंचेंगी।

उन्होंने कहा कि ट्रैक्टर परेड का फैसला संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से लिया गया है, इसमें हिस्सा लेने के लिए शाहाबाद से किसान अपना ट्रैक्टर लेकर 24 जनवरी को दिल्ली के लिए रवाना होंगे। किसान शांतिपूर्वक दिल्ली के लिए रवाना होंगे। उन्होंने कहा कि अगर किसानों को रोकने का प्रयास किया तो किसान अपना रुख कड़ा करने को मजबूर होंगे। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की सुनवाई नहीं कर रही है। बैठक में विधायक से भी मांगा त्यागपत्र

बैठक में किसानों ने शुगरफेड के चेयरमैन एवं शाहाबाद विधायक रामकरण काला से भी किसानों के हक में त्यागपत्र की मांग की है। उन्होंने कहा कि विधायक को किसान और सरकार में से एक के साथ खड़ा होना होगा। उन्हें 18 जनवरी तक अपनी स्थिति स्पष्ट करने की मांगी की। ऐसा न करने पर 21 जनवरी को इसी जगह पर बैठक कर विधायक को लेकर अगला निर्णय करने की बात कही गई है। इस मौके पर हरकेश खानपुर, अमनदीप सिंह कंबोज, पंकज हबाना, रणजीत त्योड़ी, सुखचैन पाडलू, बलविद्र नलवी, छोटू राम मछरौली, बलकार सिंह व हरकेश चढूनी मौजूद रहे। राष्ट्र गान व राष्ट्रीय ध्वज के साथ की जाएगी ट्रैक्टर परेड

दूसरी ओर अखिल भारतीय किसान यूनियन (अ) के राष्ट्रीय महासचिव स्वामी इंद्र ने विश्रामगृह में पत्रकारों को बताया कि किसान राष्ट्र गान और राष्ट्रीय ध्वज के साथ ट्रैक्टर परेड में शामिल होंगे। सरकार किसानों की मांग पूरी करने की बजाय उन्हें टरका रही है। उन्होंने कहा कि 26 जनवरी को किसान गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाएगा और इसमें महिला शक्ति भी बढ़ चढ़ कर भाग लेंगी। हर गांव से 11 महिलाओं को आंदोलन शामिल होने के लिए निमंत्रण दिया जाएगा। इस मौके पर चरणजीत मोहनपुर मौजूद रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021