जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र :

धर्मनगरी के अधिकारियों की लापरवाही वाहन चालकों की जान पर भारी पड़ रही है। शहर भर की सड़कों पर ठेकेदार ने नियमों की अनदेखी कर तोरणद्वार लगा दिए हैं, जिससे टकराकर वाहन चालक चोटिल हो रहे हैं और प्रशासन किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है। यह तोरणद्वार सड़क किनारे से कई फुट अंदर बल्लियां गाढकर लगाए गए हैं। अधिकारियों की सुस्ती का आलम भी ऐसा है कि ठेकेदार एक बार सड़क के बीच में ही तोरणद्वार खड़ा करने के बाद महीनों तक उसे हटाते तक नहीं है। यह सब लघु सचिवालय की ओर जाने वाली मुख्य सड़क पर ही हो रहा है। यह बात हैरान करने वाली है कि जिले भर के अधिकारी इसी सड़क से गुजरते हैं और उन्हें नियमों की कोई परवाह नहीं है। प्रशासन की इस लापरवाही से लोगों में रोष है।

---

केडीबी रोड पर चार फुट अंदर लगाई बल्ली केडीबी रोड पर उधम ¨सह चौक के पास तोरणद्वार लगाने के लिए सड़क के चार फुट अंदर ही बल्ली गाड़ दी गई हैं। अचानक सड़क के बीच में ही गढी इन बल्लियों के सामने आने पर वाहन चालक भ्रमित हो रहे हैं। एकाएक संभलने का मौका न मिलने पर आए दिन यहां दुर्घटनाएं हो रही हैं। एक दिन पहले ही एक कार तोरणद्वार के लिए लगाई गई बल्लियों से टकरा गई। तेज गति से आ रही कार टक्कर लगते ही पलट गई। राहगिरों ने आनन-फानन में घायल कार चालक को बाहर निकाला और अस्पताल में भर्ती करवाया। इसके अलावा अब तक कई दोपहिया वाहन चालक भी इन तोरणद्वारों से टकरा चुके हैं।

----

Posted By: Jagran