संवाद सहयोगी, इस्माईलाबाद

कस्बे की बीस साल से चली रही सीवरेज की मांग अब पूरी होने जा रही है। सीवरेज का साढ़े नौ करोड़ का टेंडर हो गया है। इसके साथ ही साढ़े चार करोड़ का टेंडर पीने के पानी की नई पाइप लाइन का हुआ है। इस पर इसी महीने काम आरंभ होने जा रहा है। इसका शुभारंभ विधायक संदीप सिंह करेंगे।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तीन साल पहले पिहोवा की विकास रैली में जब इस्माईलाबाद को नगरपालिका का दर्जा देने की घोषणा की थी। उसी समय सीवरेज डालने की घोषणा की थी। उसी समय से कागजी कार्रवाई पर काम चल रहा था। पहले फाइल ग्रामीण एरिया के कारण अलग विभाग के पास रही। अब नगरपालिका का दर्जा मिलने के बाद इस्माईलाबाद अर्बन में शामिल हो गया है। अब जन स्वास्थ्य विभाग ने इसका टेंडर जारी किया। कस्बे की बीस साल से मांग चली आ रही थी कि सीवरेज डाला जाए ताक गंदगी से पूरी तरह निजात मिल सके। सीवरेज पर पहले चरण में साढ़े नौ करोड़ खर्च होगा और पेयजल की पाइप लाइन पर साढ़े चार करोड़ खर्च होगा। जन स्वास्थ्य विभाग के परिसर में पाइप लाइन पहुंच चुकी है। विभाग के अनुसार दोनों काम एक साथ चलेंगे।

नवंबर से काम होगा आरंभ-

जन स्वास्थ्य विभाग के एक्सईएन अरविद रोहिला ने बताया कि अगले दस दिन में टेंडर लेने वाली फर्म के नुमाइंदे विजिट कर कस्बे का जायजा लेंगे। रोहिला ने कहा कि सीवरेज पर काम नवंबर माह में ही आरंभ हो जाएगा।

ग्रामीणों को मिलेगा शुद्ध पानी-अरोड़ा\क्च

नपा प्र?धान संजीव अरोड़ा ने बताया कि पूरे कस्बे में नई पानी की पाइप लाइन डालने के बाद सभी परिवारों को शुद्ध पानी मिलेगा। जो कि प्रति व्यक्ति 135 लीटर उपलब्धा करवाया जाएगा। इसके साथ ही तीन नये ट्यूबवेल भी लगाए जाएंगे। उ?होंने बताया कि दोनों कामों का शुभारंभ वि?ायक संदीप सिंह करेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप