जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : क्षेत्रीय रेलवे यात्री सलाहकार समिति के सदस्य ने नई दिल्ली में आयोजित बैठक में चेयरमैन से कुरुक्षेत्र पर ज्यादा ध्यान दिए जाने की मांग की है। कुरुक्षेत्र से समिति के सदस्य रविद्र सांगवान ने कहा कि गीता की नगरी के अंतरराष्ट्रीय महत्व को देखते हुए कुरुक्षेत्र के रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का ठहराव बढाया जाना चाहिए। उन्होंने शुक्रवार को नई दिल्ली के आफिर्स क्लब में आयोजित बैठक में बताया कि वर्तमान में 30 से अधिक ट्रेन कुरुक्षेत्र स्टेशन पर बगैर रुके ही निकल जाती हैं। ऐसे में देश भर से कुरुक्षेत्र पहुंचने वाले पर्यटकों को सही सुविधा नहीं मिल पा रही है। इतना ही नहीं उन्होंने बैठक में बताया कि वह कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के भी सदस्य हैं और केडीबी की ओर से विदेशों तक में गीता का प्रचार किया जा रहा है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुरुक्षेत्र पर्यटन स्थलों के विकास को प्रमुखता देते हुए श्रीकृष्णा सर्किट में शामिल किया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कुरुक्षेत्र स्टेशन के साथ लगती रेलवे की जमीन पर पिछले कई सालों से अदालत में केस चल रहा है, अगर इसकी सही तरीके से पैरवी की जाए तो इस केस का समाधान होने पर रेलवे को करोड़ों रुपये जमीन काम-काज के लिए उपलब्ध हो सकती है। उन्होंने समिति के चेयरमैन से योजनाएं तैयार करते समय कुरुक्षेत्र का खास ख्याल रखने की मांग भी की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस