जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : जिले के आंगनबाड़ी केंद्रों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। पहले चरण में पायलट प्रोजेक्ट के तहत सभी सात खंडों से 10-10 आंगनबाड़ियों के नाम मांगे गए हैं। इन आंगनबाड़ी केंद्रों में योजना के सफल होने के बाद सभी केंद्रों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम किया जाएगा।

यह बात मंगलवार को डीसी धीरेंद्र खड़गटा ने लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित जिला टास्क फोर्स की बैठक में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इन केंद्रों में जल्द ही अक्षय उर्जा के तहत सोलर लाइट भी लगाई जाएंगी। ये सभी आंगनबाड़ी सरकारी भवनों मे होनी चाहिए। इनके अंदर पानी, बिजली, शौचालय, स्टोर रूम और किचन स्लैब जरूर होने चाहिए। अगर कोई आंगनबाड़ी सरकारी भवन में नहीं है तो उसकी रिपोर्ट दें ताकि जल्द से जल्द से संबंधित आंगनबाड़ी को सरकारी भवन में शिफ्ट किया जा सके। डीसी ने कहा कि अगली बैठक में वन स्टॉप सेंटर, पॉक्सो, स्कूल हेल्थ डॉक्टर, डीएसडब्ल्यूओ, डीईईओ को भी शामिल करें ताकि संबंधित एजेंडे में उनके कार्य की भी समीक्षा की जा सकें। उन्होंने बताया कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत विशेष अभियान 20 जनवरी को शुरू किया है। यह 26 जनवरी तक चलेगा। डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. एनपी सिंह और डॉ. आरके सहाय ने बताया कि पीसीपीएनडीटी व एमटीपी एक्ट के तहत 54 अल्ट्रासाउंड केंद्रों की जांच की गई है। इस दौरान 130 लोगों को पकड़ा गया है। विभाग ने 44 रेड की हैं। 11 अल्ट्रासांउड केंद्रों का लाइसेंस रद किया है और पीसीपीएनडीटी व एमटीपी एक्ट के तहत 46 एफआइआर दर्ज कराई हैं।

Edited By: Jagran