संवाद सूत्र, बाबैन: भारतीय किसान यूनियन बाबैन ब्लाक की मीटिग किसान रेस्ट हाउस में आयोजित की गई। इसमें सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ किसानों ने रोष प्रर्दशन किया। इस बैठक में भाकियू के जिला प्रधान बलिद्र जैनपुर ने कहा कि धान के सीजन में पूरी फसल की खरीद सरकार के द्वारा की जाए और धान की फसल पर किसानों को 500 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से बोनस दिया जाए ताकि किसान की आíथक मदद हो सके। उन्होंने कहा कि अगर सरकार किसानों का हित चाहती है तो स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को तुंरत लागू करे। उन्होंने कहा कि शुगर मिल सरकार की ओर से 15 नवंबर तक चालू किए जाए और गन्ने का भाव 400 रुपये प्रति क्विटल घोषित किया जाए। उन्होंने कहा कि सरकार ने रेट में मामूली बढ़ोतरी करके किसानों के साथ भद्दा मजाक किया गया है। अगर सरकार सच में किसान हितैषी है तो गेहूं का समर्थन मूल्य 2500 रुपये प्रति क्विटल घोषित करे। इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष धर्मबीर नेहरा, ब्लॉक प्रधान जयपाल गुहन, अमर सिंह टाटकी, अंग्रेज सिंह, रविद्र, रमेश, जगबीर, पालाराम, जाती राम, नानकचंद, शिव कुमार, मदनपाल, राजपाल, धर्मपाल, कर्मबीर, अजीत सिंह मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप