-7 लाख 73 हजार 226 को कोरोना से बचाव की लग चुकी पहली डोज जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : सरकार की सख्ती और कोविड-19 के बढ़ते प्रभाव के बावजूद भी जिले में 95 हजार लोग दूसरी डोज लेने में अपने पैर पीछे खींच रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग इन लोगों को मैसेज और फोन करके सूचित भी कर रहा है लेकिन ये लोग दूसरी डोज वैक्सीन लगवाने के लिए आगे नहीं आ रहे। यह तब है जब कोरोना वायरस की तीसरी लहर को देखते हुए वैक्सीन की तीसरी बूस्टर (सतर्कता) डोज भी आ चुकी है। इन लोगों ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी मुश्किल में डाल दिया है। जिला प्रशासन इस मामले में जवाबदेही मांग रहा है और स्वास्थ्य विभाग इन्हें वैक्सीन लगाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहा है।

12 लाख 66 हजार 621 कोरोना से बचाव की डोज लग चुकी अब तक जिले में सात लाख 73 हजार 226 को कोरोना से बचाव की पहली, पांच लाख 35 हजार 121 को दूसरी डोज लगा चुका है। वहीं हेल्थ वर्कर, फ्रंट लाइन वर्कर और 60 साल से ऊपर के बीमार एक हजार 274 लोगों को बूस्टर डोज भी लगा चुका है। अगर बात करें तो अब तक जिले में 12 लाख 66 हजार 621 कोरोना से बचाव के टीके लग चुके हैं। जबकि स्वास्थ्य विभाग महज 14 दिन में जिले में 53 हजार में से 41 हजार 100 किशोरों को कोरोना से बचाव की वैक्सीन लगा चुका है। लोग दूसरी डोज लगवाएं : डा. अनुपमा सिंह

वैक्सीनेशन प्रोग्राम की नोडल आफिसर डा. अनुपमा सिंह ने बताया कि जिले में 95 हजार ऐसे लोग हैं जिन्हें दूसरी डोज लगनी है। इन लोगों की दूसरी डोज की अंतिम तिथि कई दिन पहले पूरी हो चुकी है, लेकिन ये लोग दूसरी डोज लगवाने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं। कोरोना का प्रभाव बढ़ता जा रहा है।

Edited By: Jagran