जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : जिले में कोरोना का कहर थम नहीं पा रहा है। पिछले 100 दिनों के आकड़ों पर नजर डाले को 4053 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। इनमें से 864 केवल विद्यार्थी हैं। पिछले तीन महीने पॉजिटिव केसों में 21 प्रतिशत आंकड़ा केवल स्कूली विद्यार्थियों का है। स्वास्थ्य विभाग का फोकस राजकीय स्कूलों पर है। इस वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए गाइडलाइन को अपनाना जरूरी है।

डीसी शरणदीप कौर बराड़ ने मंगलवार को अपने कार्यालय में स्वास्थ्य विभाग के कोरोना नोडल अधिकारी व अन्य अधिकारियों की बैठक ली। इसमें तीन महीने में कोरोना पॉजिटिव पर विचार-विमर्श किया है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोरोना का संक्रमण को रोकने के लिए व्यापक कदम उठाने के आदेश दिए।

कब कितने पॉजिटिव आए

डीसी ने बताया कि जिले में जनवरी महीन में 238 पॉजिटिव केसों में से 39 विद्यार्थी रहे। फरवरी में 263 में से 61, मार्च में 198 में से 92 और 11 अप्रैल तक 1570 में 372 पॉजिटिव आए हैं। जनवरी से 11 अप्रैल तक 4053 केसों में से 864 पॉजिटिव केस विद्यार्थियों की है। इतना बड़ा आंकड़ा चिता का विषय है। स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को राजकीय स्कूलों पर फोकस रखने की जरूरत है।

447 मरीजों में आइएलआइ और एसएआरआइ के सिमटम

डीसी ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। अब तक जिले में 157 लोगों की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। इनमें से 156 लोगों की मौत अलग-अलग अस्पतालों और एक व्यक्ति की मौत घर पर हुई है। इस समय 1061 एक्टिव केस हैं। स्वास्थ्य विभाग घर पर आइसोलेट 9914 लोगों को किट मुहैया करा चुका है। जिले में 447 मरीजों में आइएलआइ और एसएआरआइ के सिमटम थे।

विदेश से आए 527 लोगों पर नजर

डीसी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग से मिली रिपोर्ट के अनुसार 23 नवंबर 2020 से 12 अप्रैल 2021 तक 527 लोग विदेश से जिले में आए हैं। इनमें से 375 लोगों के सैंपलों की जांच की गई। हालांकि 23 लोगों ने सैंपल कराने से मना भी किया। इनमें से 336 की रिपोर्ट नेगेटिव थी और सात केस पॉजिटिव पाए गए थे। 72 की रिपोर्ट आना बाकी है। इनके 130 प्राइमरी संपर्को पर भी नजर रखी जा रही है। कोविशिल्ड और कोवैक्सीन की 1.18 लाख डोज

जिले में 16 जनवरी से 11 अप्रैल तक कोविशिल्ड के 1.03 लाख और कोवैक्सीन के 15 हजार डोज मिली हैं। इनमें से 94 हजार डोज लोगों को लगाई जा चुकी हैं। जिले में 14 अप्रैल तक टीका उत्सव का आयोजन भी किया जा रहा है। टीका उत्सव में 45 वर्ष से ज्यादा आयुवर्ग के लोगों को वैक्सीन दे रहे हैं।

Edited By: Jagran