संवाद सहयोगी, शाहाबाद : शाहाबाद के 24 वर्षीय युवक ने अपनी मां की आखों की सामने ही झांसा के पास नरवाना ब्रांच नहर में छलांग लगा दी। मोहल्ला सैदां निवासी ललित के नहर में छलांग लगाने की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे गोताखारों ने उसकी तलाश शुरू कर दी है। समाचार लिखे जाने तक ललित कुमार का कोई सुराग नहीं लगा है। इस मामले के पीछे घरेलू कलह से जोड़ कर देखा जा रहा है। हालांकि पुलिस ने अभी तक किसी तरह की पुष्टि नहीं की है। पुलिस ने युवक की माता रीतू देवी की शिकायत पर मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

गोताखोर प्रगट सिंह ने बताया कि वह ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ नदी की गहराई और आस-पास के पुलों पर तलाश कर चुके हैं, लेकिन शव नहीं मिल पाया है। जानकारी के अनुसार ललित लाडवा रोड पर एक करियाना की दुकान पर काम करता है। वीरवार को ललित घर पर पिता का श्राद्ध कर घर से दुकान के लिए निकला था, लेकिन वह दुकान पर नहीं पहुंचा। ललित ने सांय चार बजे के करीब अपनी मां रीतू देवी को फोन करके कहा कि अगर वह उसे एक बार देखना चाहती है तो झांसा नहर पर आ जाए। इसके बाद जब उसकी मां रीतू देवी अपने रिश्तेदारों व परिचितों को साथ लेकर झांसा नहर पर पहुंची। तो ललित ने अपनी मां रीतू देवी को देखते हुए हाथ उठाकर नमस्कार किया और नदी में कूद लगा दी। इसके बाद पुलिस व गोताखोर मौके पर पहुंचे। लेकिन अभी तक ललित का कोई सुराग नहीं लगा है। शुक्रवार सुबह भी गोताखोर प्रगट सिंह ने करीब चार किलोमीटर तक ललित की तलाश की। ललित का दो माह का बेटा है। इस वाक्ये के बाद से परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है। थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने कहा कि इस बाबत शिकायत उनके पास आई है। इस मामले पर जांच की जा रही है। गोताखारों की मदद से ललित की नहर में तलाश की जा रही है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप