जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : लॉकडाउन तोड़ना किसी जुर्म से कम नहीं है। बेवजह सड़कों पर घूमने वाले 102 लोग इसका खामियाजा भुगत चुके हैं, यानि हवालात की हवा खा चुके हैं। यही नहीं 102 वाहन भी जब्त किए हैं। लॉकडाउन का सख्ती से पालन हो नाकों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। कोरोना वायरस की जंग के खिलाफ दूसरे चरण में 19 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है। लिहाजा लॉकडाउन तोड़ना अब जुर्म की श्रेणी में शामिल हो गया है। पुलिस ने भी सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। प्रथम चरण का लॉकडाउन तोड़ने पर 102 लोगों को गिरफ्तार किया और इतने ही वाहनों को पुलिस ने जब्त किया। बेवजह सड़कों पर घूमने वालों को पुलिस ने 4618 चालान भी थमाए। यही नहीं 78 के खिलाफ मामले भी दर्ज किए।

अवैध शराब बिक्री पर कसा शिकंजा

लॉकडाउन पर अवैध शराब बिक्री करने वालों पर भी पुलिस ने कार्रवाई की है। अवैध रूप से बिक रही शराब के साथ लाहन भी बरामद किया है। अभी तक पुलिस ने 2689 शराब की बोतलें बरामद की हैं, इनमें 162 बीयर की बोतलें भी शामिल हैं। यही नहीं 487 लीटर लाहन भी बरामद किया गया है। मास्क न पहनने वालों पर भी कसा जा रहा शिकंजा

हरियाणा सरकार की ओर से हर जिले में मास्क पहना अनिवार्य कर दिया है। मास्क के साथ रूमाल, कपड़ा या गमछे के साथ मुंह ढका होना चाहिए। इस पर पुलिस विशेष निगरानी रखे हुए है। मुंह न ढकने वालों पर पुलिस न केवल शिकंजा कस रही है बल्कि चालान भी थमा रही है। लॉकडाउन की पालना करना अनिवार्य : डीसी

डीसी धीरेंद्र खडगटा ने कहा कि लॉकडाउन की हर शहरवासी पालना करने, इसको सुनिश्चित करने के लिए पुलिस टीमें गश्त कर रही हैं। कॉलोनियों, सेक्टरों व ग्रामीण क्षेत्रों में पांच से अधिक लोगों के इकट्ठे होने पर धारा-144 तोड़ने के तहत कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। प्रशासनिक टीमें भी शहर में निगरानी रखे हुए हैं। हर क्षेत्र के लिए ड्यूटी मेजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है जो हर समय प्रशासन को रिपोर्ट देता है। उसके आधार पर कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप