निसिंग (करनाल), संवाद सहयोगी। अमेरिका में रहने वाले कुचपुरा गांव के सोनू चौधरी ने अपने छोटे भाई राहुल चौधरी को उसकी शादी पर हेलीकाप्टर में बारात ले जाने की अनूठी सौगात दी। हालांकि सोनू खुद भाई की शादी में शरीक नहीं हो सका लेकिन उसने इसे यादगार बनाने के लिए अमेरिका में ही बैठकर सभी तैयारियां कराईं। इसी के चलते उसके छोटे भाई राहुल की बारात क्षेत्र के कुचपुरा गांव से दहा के पास बजीदा गांव में पहुंची। ऐसे में बारातियों के लिए महज बीस किलोमीटर का यह सफर हमेशा के लिए यादगार बन गया।

बड़े भाई ने आनलाइन छोटे भाई के फेरे देखे

छोटा भाई हेलीकाप्टर में अपनी बारात लेकर जाए, इसकी घोषणा सोनू ने करीब दो साल पहले ही कर दी थी। सोनू ने बताया कि उसने भाई का शादी समारोह यादगार बनाने को लेकर कहा था कि ऐसी शादी होगी कि लोग देखेंगे और याद रखेंगे। मोबाईल पर लाईव होकर सोनू ने अपने भाई की शादी के सात फेरे भी देखे और सुखी वैवाहिक जीवन की शुभकामनाएं दीं। बता दें कि कुचपुरा गांव का युवा सोनू पांच साल से अमेरिका में है। वह खुद अविवाहित है। जबकि उसकी छोटा भाई 26 वर्षीय राहुल यहीं खेतीबाड़ी व दूध बेचने का काम करता है। राहुल आइटीआइ डिप्लोमा होल्डर है और तीन साल पहले मारूति कंपनी में नौकरी भी कर चुका है।

राहुल की दुल्हन गीता देवी एमए इकानामिक्स शिक्षित है। इस अनूठी बारात व समारोह के बाद उसके ससुराल पहुंचते ही महिलाओं ने फूल बिखेरकर दुल्हन का स्वागत किया। इससे पूर्व राहुल की बारात सुबह दस बजे जानी थी लेकिन इसममें कुछ विलंब हो गया। हेलीकाप्टर नहीं आने से परिवार की चिंता भी बढ़ गई। आखिरकार दोपहर सवा दो बजे हेलीकाप्टर गांव कुचपुरा पहुंचा। यहां से हेलीकाप्टर दूल्हे को लेकर दुल्हन के गांव पहुंचा। इस बीच उत्सुक महिलाओं ने घरों की छतों व खेतों व गलियों में खड़े होकर हेलीकाप्टर को देखा।

यादगार बन गया छोटा सा सफर

इस यादगार सफर में राहुल की बारात कुचपुरा गांव से जिले के ही बजीदा गांव पहुंची। हेलीकाप्टर देखने के लिए ग्रामीण व आसपास के गांवों से लोग उमड़ पड़े, जिन्हें पुलिस की मदद से पीछे हटाया गया। पहली बार गांव से किसी युवक की बारात हेलीकाप्टर में जाने से कुचपुरा के इतिहास में नया अध्याय जुड गया। आसपास के कई गांवों में पहले कभी हेलीकाप्टर में बारात नहीं गई थी। रणबीर की पुत्री गीता के साथ राहुल कुचपुरा सात फेरों के बंधन में बंधे। राहुल अब तक दक्षिण अफ्रीका, दुबई, कजाकिस्तान सहित कई देशों की हवाई यात्रा कर चुका है। सात फेरों के बाद दुल्हन फारर्च्यूनर कार में बैठकर ससुराल पहुंची। दुल्हन का सास नीलम देवी, दादी मानसी देवी, कमला देवी, करेशनी देवी, अंजू देवी, सोनिया, पूनम, मोनिया, सुमन देवी, सुषमा, पूनम ने स्वागत किया।

Edited By: Naveen Dalal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट