संवाद सूत्र, निसिग : गांव मंजूरा में पीडब्ल्यूडी विभाग की ओर से विभाग के ठेकेदार ने फोरलेन की दोनों तरफ नाले का निर्माण तो कर दिया, लेकिन सफाई के लिए आठ से दस जगह पर खुले छोड़े गए नाले को पाटने का काम नहीं किया। इससे नाले में गिरकर अक्सर ग्रामीण चोटिल हो रहे हैं।

खासकर शाम के समय अंधेरा छाने पर ठीक से दिखाई नहीं देने के कारण लोग अक्सर नाले में गिर जाते हैं। दिन के समय भी दुकानों की तरफ ध्यान होने से लोग हादसे के शिकार बन रहे हैं। कई दिन पहले एक दुकानदार नाले में गिरकर जख्मी हो गया था। वहीं मंजूरा में रिश्तेदारी में आया एक बुजर्ग गिरकर चोटिल हो गया। ग्रामीण अरूण जैन, सुदेश, शकील अहमद, अनुज जैन का कहना था कि विभाग का ठेकेदार कई जगह से खुले नाले को ढक्कन से पाटना भूल गया है। खुला नाला लोगों को जख्म दे रहा है। उन्होंने विभागीय व प्रशासनिक अधिकारियों से नाले को शीघ्र ढकने की मांग की है।

वहीं कैथल रोड से गांवों की तरफ जाने वाली सड़कों के ढलान पर बजरी तारकोल डालकर दुरुस्त नहीं किया गया। इस कारण पत्थर व धूल-मिट्टी युक्त ढलान पर लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कुचपुरा बस अड्डा से औंगद व सिघडा की तरफ जाने वाली सड़क एवं नर्दक नहर से औंगद पहुंचायक मार्ग पर भी बजरी तारकोल नहीं डाला गया। इस संबंध में विभाग के एसडीओ अमित मैहला का कहना है कि उनकी ओर से नाले की सफाई के लिए खुले छोडे़ गए स्थानों को ढक्कन से अतिशीघ्र ढक दिया जाएगा। वहीं कैथल रोड पर बजरी तारकोल की दूसरी लेयर डालने का काम किया जा रहा है।गांवों की सड़कों के ढलान पर बजरी तारकोल डालकर सही कर दिया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप