जागरण संवाददाता, करनाल : घरों में सेंधमारी करने का नया तरीका पांच चोरों ने निकाला। वह उस रात को ही चोरी की वारदात को अंजाम देते थे, जब बरसात हो रही हो। क्योंकि रात के समय बरसात होने पर लोग जल्दी अपने घरों में चले जाते हैं। इससे वह आसानी से चोरी को वारदात को अंजाम देते थे। इन पांचों चोरों ने गिरफ्तार होने के बाद पुलिस पूछताछ में यह खुलासा किया। इन चोरों ने असंध व इंद्री थाना क्षेत्र में दुकानों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। इस संबंध में अलग-अलग व्यापारियों के बयान पर दोनों थानों में पुलिस ने चोरी के मामले भी दर्ज किए हुए थे। इन मामलों की जांच डिटेक्टिव स्टाफ को सौंपी गई थी। इसी स्टाफ ने जांच को आगे बढ़ाते हुए इस गिरोह को काबू कर लिया। स्टाफ की टीम ने 22 अगस्त को इंद्री क्षेत्र से चोरी के आरोपित इंद्री निवासी साहिल, इंद्री के जोहड़ माजरा गांव निवासी रामफल व खानपुर इंद्री निवासी अमन को काबू किया। दोनों को 23 अगस्त को अदालत में पेश कर रिमांड लिया। पूछताछ में तीनों ने चोरी की वारदात में साथ देने वाले आरोपित इंद्री के वार्ड नंबर आठ निवासी साहिल, इसी वार्ड के धीरज के नाम का खुलासा किया। इन दोनों के खिलाफ पहले भी चोरी के मामले दर्ज हैं। इन दोनों को भी पुलिस ने इंद्री क्षेत्र से काबू कर लिया। चोरों से पुलिस ने 7 किलो 219 ग्राम चांदी व 7 तोले सोना बरामद किया है। इसके साथ ही 4 पंखे, 2332 रुपये के सिक्के, वारदात करने के लिये प्रयोग सामान का बैग, एक गैस सिलेंडर, प्लास्टिक पाइप व साथ लगा एक मीटर, एक पाइप रेंच, एक कटर, 6 ब्लेड, कटर खोलने की चाबी, तीन बरसाती कोट व एक पल्सर मोटरसाइकिल बरामद की है।

Edited By: Jagran