जागरण संवाददाता, करनाल : हजारों की नकदी लूटकर ट्रक चालक की हत्या को अंजाम देने के तीन आरोपितों को पुलिस ने करीब डेढ़ माह बाद काबू कर लिया है। एक आरोपित अभी फरार है, जिसे पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है। काबू किए गए आरोपितों को बुधवार को अदालत में पेश किया जाएगा।

बता दें कि गांव जाजापुरा जिला हरदोई उत्तरप्रदेश वासी नजमूल अपना ट्रक यमुनानगर में खाली कर वापस लौट रहा था। उसके साथ भतीजा साकिब भी ट्रक में सवार था। साकिब के अनुसार जैसे ही वे गांव कैरवाली के पास पहुंचे तो सुबह करीब दो बजे अचानक ट्रक के आगे कार रोककर करीब आधा दर्जन बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया था। इस दौरान वह डर के मारे वहां से भाग गया, लेकिन उसके चाचा नजमूल पर आरोपितों ने चाकू व अन्य हथियारों से हमला कर घायल कर दिया था। आरोपित 35 हजार की नकदी व मोबाइल लूट ले गए थे।

आरोपितों ने उसी दौरान एक केंटर चालक से भी हजारों की लूट की थी। बाद में उपचार के दौरान नजमूल की मौत हो गई थी, जिसके चलते पुलिस ने आरोपितों पर लूट के साथ-साथ हत्या का भी मामला दर्ज कर लिया था। मामले की जांच करते हुए सीआइए वन टीम ने सेक्टर चार ग्रीन बेल्ट से गुप्त सूचना के आधार पर आरोपित करनाल के गुरनाम उर्फ सावन वासी ऋषि नगर, रामसिह उर्फ आसू वासी शास्त्री नगर व रोहित उर्फ दिक्षु वासी सेक्टर-4 को वारदात में इस्तेमाल ऐसेंट गाड़ी सहित गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में आरोपितों ने अपने एक अन्य साथी विशाल वासी गांव रावर करनाल के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देने की बात मानी है। आरोपितों को रिमांड पर लिया जाएगा, ताकि नकदी व हथियार बरामद करने के साथ-साथ अन्य वारदातों का भी पता लगाया जा सके।

Edited By: Jagran