जागरण संवाददाता, करनाल: अलग-अलग सड़क हादसों में तीन लोगों की मौत हो गई। पहली घटना जरीफा फार्म रोड पर हुई, जहां डेरा सुमेर सिंह काछवा वासी अभय ने बताया कि उसका चचेरा भाई करीब 28 वर्षीय राजेंद्र गांव से दूध लेकर शहर में बेचता था और इसके सहारे ही परिवार का गुजारा चला रहा था। हर रोज की तरह वह सोमवार को भी सुबह दूध लेने के लिए घर से जरीफाबाद फार्म की ओर बाइक पर सवार होकर जा रहा था।। तभी एक तेज गति से आ रहे एक ट्रक ने उसे अपनी चपेट में ले लिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। आरोपित ट्रक चालक मौके से फरार हो गया जबकि गंभीर अवस्था में राजेंद्र को सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। करीब दो साल पहले ही राजेंद्र की शादी हुई थी और वह अपने परिवार का इकलौता ही चिराग था। वहीं दूसरा हादसा निगदू क्षेत्र में हुआ, जहां गांव पस्ताना वासी कपिल देव ने बताया कि उनके पिता रामदास मजदूरी करने के लिए बाइक पर सवार होकर गांव कोयर जा रहे थे, तभी एक कार ने उन्हें टक्कर मार दी। इससे उनकी मौत हो गई।

सर्विस रोड पर बाइक चालक की मौत

घरौंडा : सड़क हादसे में एक बाइक चालक की जान चली गई। हादसा कार चालक द्वारा अचानक दरवाजा खोलने की वजह से हुआ। अराईपुरा निवासी 22 वर्षीय गौरव अपने चाचा मनोज के साथ अपनी बाइक पर सवार होकर घरौंडा में खल दुकानदार के पैसे देने के लिए आ रहे था। उसका चाचा मनोज खिलान कार प्वाइंट के नजदीक बैटरी वर्कशॉप पर किसी काम के लिए रूक गया था और गौरव खल दुकानदार को पैसे देने के लिए चला गया था। कुछ देर बाद गौरव अपने चाचा को लेने के लिए वापस जा रहा था। जैसे ही वह कार प्वाइंट के पास पहुंचा तो वहां पर खड़ी कार के चालक ने अचानक दरवाजा खोल दिया और गौरव कार के दरवाजे से टकरा गया और वह गंभीर रूप से घायल हो गया।

Edited By: Jagran