अश्विनी शर्मा, करनाल

अवैध कालोनियों के विस्तार को रोकने की नगर निगम की तमाम कवायदों के बावजूद कालोनाइजर लोगों को झांसे में लेकर प्लाट बेचने में जुटे हुए हैं। निगम की ओर से जारी 22 अवैध कालोनियों की लिस्ट में भी अभी कई अवैध कालोनियों का नाम शामिल नहीं हुआ है। इसके साथ ही अवैध कालोनियों में निर्माण कार्य जारी हैं। जिला नगर योजनाकार व नगर निगम की टीम इस तरह की कालोनियों में कार्रवाई के नाम पर कुछ निर्माण ढहा देती है, लेकिन इसके अगले दिन से ही दोबारा से निर्माण कार्य शुरू कर दिए जाते हैं। एक बार पूरा भवन निर्माण होने के बाद उसे ढहाया भी नहीं जाता। प्रशासन की दिखावे की सख्ती के चलते कालोइजर कारोबार को धड़ल्ले से चला रहे हैं। समाजसेवी एडवोकेट सुरजीत मंढाण का कहना है कि प्रशासन की ढीली कार्रवाई की वजह से ही अवैध कालोनियां लगातार बढ़ती जा रही है। प्रशासन सही मायने में सख्ती दिखाए तो भोले-भाले लोग इन कालोनाइजरों के झांसे में आने से बच सकते हैं। अवैध कालोनियों के निर्माण को रोकने के लिए समय समय पर प्रशासन की ओर से दावे किए जाते हैं। लेकिन कभी भी व्यापक स्तर पर ऐसी कोई कार्रवाई सामने नहीं है, जिससे कालोइनाजर के मन में अवैध काम करने पर प्रशासन का भय हो। दो दिन पहले नगर निगम की ओर से 22 अवैध कालोनियों की सूची जारी करते हुए कहा गया कि इन कालोनियों में लोग प्लाट नहीं खरीदें और इसके साथ ही कई और हिदायतें भी दी गई। लेकिन अभी तक किसी भी एक कालोनाइजर के खिलाफ सख्त रुख नहीं अपनाया गया है। यही वजह है कि बुढ्डाखेड़ा के पीछे अवैध कालोनी में निर्माण कार्य जारी है। यही स्थिति मंगलपुर पार्ट टू व आरके पुरम पार्ट टू सहित कई कालोनियों में बनी हुई है। अवैध कालोनियों की सूची नगर निगम की ओर से जारी 22 अवैध कालोनियों की सूची में गांव फूसगढ में उत्तम नगर के साथ, दुर्गा कालोनी के नजदीक, शेखपुरा सुहाना रोड पर सैलजा मिल के पीछे, शेखपुरा सुहाना रोड पर जेटीपीएल के सामने, करण विहार कृपाल आश्रम के सामने, गांव मंगलपुरा के नजदीक आरके पुरम पार्ट-2, कुंजपुरा रोड पर हवाई पट्टी के सामने, गांव कटाबाग के पीछे पा‌र्श्वनाथ सिटी के साथ व शक्ति पुरम पार्ट-2 शामिल है। इसके साथ ही कैलाश रोड पर बागपति के साथ, पा‌र्श्ववनाथ सिटी के साथ कटाबाग रोड पर, नजदीक पाम रेजिडेंसी रांवर रोड, मधुबन के सामने अशोक विहार एक्सटेंशन, नई अनाज मण्डी के सामने, न्यू रामदेव कालोनी नई अनाज मण्डी के सामने, मंगल कालोनी पार्ट-2 मण्डी रोड, शास्त्री नगर पार्ट-2, आनंद विहार पार्ट-2, हकीकत नगर पार्ट-2, कैथल रोड पर राधा स्वामी सत्संग घर के साथ, कैथल रोड पर जिला जेल के सामने, गांव सैदपुरा के पास सेठी कालोनी शामिल है। लेकिन इनमें से कुछ अवैध कालोनियों के नाम शामिल नहीं हैं। अभी प्रारंभिक सूची हुई है तैयार, होगी कार्रवाई-निगम आयुक्त विक्रम नगर निगम के आयुक्त विक्रम से जब कुछ अवैध कालोनियों का नाम इस सूची में शामिल नहीं किए जाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अभी प्रारंभिक सूची तैयार हुई है। इसमें अभी कुछ और कालोनियों के नाम शामिल होंगे। अवैध कालोनियों को लेकर निगम सख्त है और इस संबंध में कार्रवाई भी की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021