संवाद सहयोगी, तरावड़ी : प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि किसानों के प्रति सकारात्मक सोच का दिखावा दिखाने वाली भाजपा सरकार का दोहरा चरित्र अब सामने आ गया है। जिस तरह पूरे देश का किसान केंद्र सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरा है। उससे यह बात साफ हो गई है कि भाजपा ने अपना जनाधार खो दिया है। क्योंकि देश के अन्नदाता के साथ-साथ आम लोग भी किसान के साथ आ खड़े हुए हैं। तरावड़ी में एक शादी समारोह में पहुंचे प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस जल्द ही विशेष विधानसभा सत्र बुलाने की मांग करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि हरियाणा में भी भाजपा ने अपना जनाधार खो दिया है। इसके लिए कांग्रेस अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने पर विचार करेगी। कांग्रेस जल्द ही इसका खुलासा करेगी। विशेष विधानसभा सत्र में कांग्रेस किसान आंदोलन के बड़े मुद्दे को उठाएगी। हुड्डा ने किसान आंदोलन को लेकर सरकार के रवैये पर सवाल खड़े किए हैं। हुड्डा का कहना है कि सरकार लगातार किसानों के धैर्य का इम्तिहान ले रही है। सरकार का अडिय़ल रवैया समझ से परे है। अन्नदाता मुश्किल और निर्णायक दौर से गुजऱ रहा है। हरियाणा सरकार की तरफ से लगाई गई तमाम बंदिशों को पार करते हुए, किसान अपना घर छोड़कर कड़कड़ाती ठंड में खुले आसमान के नीचे बैठा है। इतने बड़े स्तर पर चल रहा आंदोलन पूरी तरह अनुशासित और शांतिपूर्ण है। किसान ही नहीं देशभर के मजदूर, कर्मचारी, सामाजिक, राजनीतिक और दूसरे संगठनों का समर्थन भी आंदोलन को मिल रहा है। हरियाणा, पंजाब के बाद यूपी, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उड़ीसा, कर्नाटक, झारखंड, महाराष्ट्र समेत सभी प्रदेशों के किसान इस आंदोलन का हिस्सा बन रहे हैं। इसलिए अब ये जन-जन का आंदोलन बन चुका है। आंदोलन जितना लंबा चलेगा, उतना ही बड़ा होता जाएगा। हुड्डा ने कहा कि सरकार किसानों को बयानबा•ाी और आधे-अधूरे आश्वासनों में उलझाने की कोशिश ना करे।

Edited By: Jagran