मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, तरावड़ी : गेहूं की सीजन शुरू हो चुका है और मंडी में समस्याओं का अंबार है। शौचालयों की हालत बेहद खस्ता है और साफ-सफाई भी नहीं है। किसानों का कहना है कि मंडी में एक भी वाटर कूलर की नहीं है। आढ़ती श्यामलाल, अशोक कुमार, हरि, अनूप गोयल, रतन, नरेश कुमार का कहना है कि शाम होते ही अनाज मंडी अंधेरे में डूब जाती है। बार-बार अवगत करवाने के बावजूद अनाज मंडी में आढ़ती व किसान सुविधाओं को तरस रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप