संवाद सहयोगी, इंद्री : करनाल रोड की साइड में बने ढाबों पर कार्रवाई करते हुए प्रशासन ने अतिक्रमण हटाया। ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार दर्पण कांबोज की अगुवाई में यह कार्रवाई हुई। ढाबों के आगे लगाए शेड को पीले पंजे से गिरा दिया गया। नपा की ओर से नोटिस जारी किए जाने के कई दिन बाद यह कार्रवाई की गई। इसके अलावा, तहसील एवं एसडीएम कार्यालयों में आने वाले लोगों के वाहनों से लगने वाले जाम से निजात दिलाई गई।

तहसीलदार दर्पण कांबोज ने कहा कि नगरपालिका की ओर से अतिक्रमण करने वालों को काफी दिन पहले नोटिस जारी किए गए थे और इन्हें एक सप्ताह का समय दिया गया था। अतिक्रमण करने वालों की तरफ से कोई जवाब नहीं दिया गया है और ना ही वे लोग कार्यालय में आए। इन लोगों ने दुकान के आगे अतिक्रमण किया था। इससे दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है। अतिक्रमण को हटाने के लिए उनको ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया। पांच दुकानदारों को नोटिस दिए गए थे जिनमें से दो ने रिमूव कर लिया था। फिलहाल तीन लोकेशन पर कार्रवाई की जा रही है।

नगरपालिका सचिव देवेंद्र नरवाल का कहना है कि नगरपालिका सीमा में ढाबे बने हैं, जिन्होंने अपना बिल्डिग प्लान अप्रूव नहीं करवाया और ना ही कोई परमिशन ली। इनको नोटिस दिए गए थे। नोटिस को इन लोगों ने गंभीरता से नहीं लिया। सात दिन का समय इन्हें दिया गया था, उसमें भी इन दुकानदारों ने अतिक्रमण नहीं हटाया।

डीसी के आदेशानुसार तहसीलदार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया और अवैध निर्माण हटाने की कार्रवाई की गई ताकि भविष्य में ऐसा न हो।

Edited By: Jagran