जागरण संवाददाता, करनाल : प्रदेश के 1983 बर्खास्त पीटीआइ ने अपनी नौकरी बहाल करवाने के लिए 13 सितंबर को सीएम सिटी में प्रदेश स्तरीय प्रदर्शन का ऐलान किया है। सभी पीटीआइ जहां अपने परिवार के साथ इस प्रदर्शन का हिस्सा होंगे, वहीं उन्हें सर्व कर्मचारी संघ सहित अन्य कर्मचारी संगठनों का साथ मिलेगा। हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति के जिला प्रधान संदीप बलड़ी ने बताया कि 13 सितंबर की सुबह पीटीआइ पुरानी सब्जी मंडी में एकत्रित होंगे। इसके बाद रोष प्रदर्शन करते हुए रामगनर स्थित सीएम आवास एवं कैंप कार्यालय पहुंचेंगे। प्रदर्शन शांतिपूर्ण होगा। सीएम के प्रतिनिधि को बर्खास्त पीटीआइ की बेगुनाही के सबूत देकर नौकरी बहाली की गुहार लगाई जाएगी।

शुक्रवार को जिला सचिवालय के सामने धरना 89वें दिन भी जारी रहा। क्रमिक अनशन पर बैठने वालों में कुलदीप राणा, बलवान, प्रदीप, राजेश व शिव कुमार गोंदर शामिल रहे। इस मौके पर हरियाणा गर्वनमेंट पीडब्ल्यूडी वर्कर यूनियन के राज्य प्रधान कृष्ण शर्मा व सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान मलकीत सिंह ने कहा कि 13 सितंबर का प्रदर्शन ऐतिहासिक होगा। सरकार को पीटीआइ की नौकरी बहाली के लिए मजबूर किया जाएगा। इस अवसर पर एसकेएस के जिला सह सचिव सुशील गुर्जर, इंद्री ब्लाक प्रधान नरेश मेहला, रोशनलाल गुप्ता, अशोक पांचाल, जयपाल, ऋषिपाल, जोनी विर्क, प्रदीप सांगवान, तेजबीर मान, रिषीपाल मान, राजेश, राजकुमार, बलवान, नरेश, सेवा सिंह, हिमांशु, रीना, वीना, नीलम, मीना, सुदेश रानी व राजेश कबीरपंथी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran